1. home Hindi News
  2. national
  3. pm modi launch kk patel super speciality hospital in bhuj gujarat amh

'अगले 10 सालों में देश में होगी नये डॉक्टर की भरमार', पीएम मोदी ने अस्पताल का उद्घाटन करते हुए कही ये बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इलाज के खर्च की चिंता से गरीब को मुक्ति मिलती है तो वह निश्चिंत होकर गरीबी से बाहर निकलने के लिए परिश्रम करता है और पिछले कुछ सालों में स्वास्थ्य के क्षेत्र की जितनी भी योजनाएं लागू की गई हैं, उनकी प्रेरणा यही सोच है.

By Agency
Updated Date
पीएम मोदी
पीएम मोदी
ani

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को गुजरात में 200 बिस्तरों वाला के के पटेल धर्मार्थ सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल राष्ट्र (KK Patel Super Speciality Hospital in Bhuj) को समर्पित किया और देश के हर जिले में चिकित्सा महाविद्यालय के निर्माण के लक्ष्य और चिकित्सा शिक्षा को सर्वसुलभ बनाने के सरकार के प्रयासों का उल्लेख करते हुए कहा कि इन पहलों से आने वाले 10 सालों में देश को रिकॉर्ड संख्या में नये डॉक्टर मिलने वाले हैं.

वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से अस्पताल के उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं सिर्फ बीमारी के इलाज तक ही सीमित नहीं होती हैं बल्कि सामाजिक न्याय को भी प्रोत्साहित करती हैं. उन्होंने कहा कि जब किसी गरीब को सस्ता और उत्तम इलाज सुलभ होता है तो उसका व्यवस्था पर भरोसा मजबूत होता है.

इलाज के खर्च की चिंता से गरीब को मुक्ति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इलाज के खर्च की चिंता से गरीब को मुक्ति मिलती है तो वह निश्चिंत होकर गरीबी से बाहर निकलने के लिए परिश्रम करता है और पिछले कुछ सालों में स्वास्थ्य के क्षेत्र की जितनी भी योजनाएं लागू की गई हैं, उनकी प्रेरणा यही सोच है. उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना और जनऔषधि योजना से हर साल गरीब और मध्यम वर्ग के परिवारों के लाखों करोड़ रुपये इलाज में खर्च होने से बच रहे हैं.

क्‍या खास है अस्‍पताल में

इस अस्पताल का निर्माण भुज के श्री कच्छी लेवा पटेल समाज द्वारा किया गया है. यह पूरे कच्छ में पहला धर्मार्थ सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल है. इस अस्पताल में मरीजों को सुपर स्पेशियलिटी सेवाएं जैसे कि इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजी (कैथलैब), कार्डियोथोरेसिक सर्जरी, रेडिएशन ऑन्कोलॉजी, मेडिकल ऑन्कोलॉजी, सर्जिकल ऑन्कोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, न्यूक्लियर मेडिसिन, तंत्रिका शल्य चिकित्सा (न्यूरो सर्जरी), ज्वाइंट रिप्लेसमेंट और अन्य सहायक सेवाएं जैसे कि विज्ञान संबंधी परीक्षण प्रयोगशाला, रेडियोलॉजी इत्‍यादि सुलभ होंगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें