1. home Hindi News
  2. national
  3. pm modi instructed to the district collectors strict action should be taken against black marketeers of drugs and medical devices vwt

पीएम मोदी ने जिलाधिकारियों को दी हिदायत, दवा और चिकित्सा उपकरणों की कालाबाजारी करने वालों पर की जाए कड़ी कार्रवाई

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश के जिलाधिकारियों से की बात.
पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश के जिलाधिकारियों से की बात.
फोटो : पीटीआई.

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोना पर काबू पाने के लिए जिलाधिकारियों को फील्ड कमांडर की जिम्मेवारी देते हुए देश के दुर्गम और ग्रामीण इलाकों में संक्रमण को रोकने की खातिर किसी भी स्तर पर काम करने का निर्देश दिया है. इसके साथ ही, उन्होंने वैक्सीनेशन को कोरोना के खिलाफ जंग में एक कारगर उपाय बताया है. उन्होंने कहा कि देश में कोरोना वैक्सीन की बड़े पैमाने पर सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए सरकार की ओर से लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. इसके साथ ही, उन्होंने हिदायत भी दी है कि दवाओं और चिकित्‍सा उपकरणों की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करना भी बेहद जरूरी है.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश के जिलाधिकारियों और राज्यों से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान अधिकारियों को देश के ग्रामीण और दुर्गम इलाकों पर खास तरीके से ध्यान देना होगा. उन्होंने कहा कि जब सभी जिले कोरोना को हराएंगे, तभी देश कोरोना का जंग जीतेगा.

वैक्सीन को लेकर भ्रम को करना होगा दूर

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वैक्सीनेशन से ही कोरोना की लड़ाई जीती जा सकती है. इसलिए इससे संबंधित किसी भी प्रकार के भ्रम को दूर करने के लिए हम सभी को मिलकर काम करना होगा. उन्होंने कहा कि भारत में दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन अभियान चलाया जा रहा है. ऐसे में वैक्सीन की खुराक की बर्बादी को भी रोकना होगा.

पीएम केयर्स फंड से जिले के अस्पताल में लगाया जा रहा ऑक्सीजन प्लांट

उन्होंने कहा कि पीएम केयर्स फंड से देश के हर जिले के अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने पर तेजी से काम किया जा रहा है और कई अस्पतालों में इन प्लांटों ने काम शुरू भी कर दिया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में इस समय कुछ राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं, तो कुछ राज्यों में बढ़ भी रहे हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण घटते आंकड़ों के बीच हमें ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है. हमारी लड़ाई एक-एक जीवन बचाने को लेकर जारी है.

लोकल कंटेनमेंट जोन, टेस्टिंग और जागरूकता पर देना होगा ध्यान

प्रधानमंत्री मोदी ने लोकल कंटेनमेंट जोन, बड़े पैमाने पर टेस्टिंग और लोगों तक उचित जानकारी पहुंचाने को कोरोना के खिलाफ हथियार बताते हुए अधिकारियों से कहा कि महामारी के खिलाफ इस युद्ध में उनकी एक बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है. उन्होंने कहा कि आप एक तरह से इस युद्ध के फील्ड कमांडर हैं. हमारे देश में जितने जिले हैं, उतनी ही अलग-अलग चुनौतियां हैं. आप अपने जिले की चुनौतियों को बहुत बेहतर तरीके से समझते हैं. इसलिए जब आपका जिला जीतता है, तो देश जीतता है. जब आपका जिला कोरोना को हराता है, तो देश कोरोना को हराता है.

पर्याप्त चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराना बेहद जरूरी

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिलों में पर्याप्त चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करना भी बेहद जरूरी है और अपनी जरूरतों को तेजी से रेखांकित करके उनका प्रबंध भी करना है. उन्होंने कहा कि चुनौती बड़ी जरूर है, लेकिन हमारा हौसला उससे भी बड़ा है. उन्होंने कहा कि कोरोना के अलावा उन्हें अपने जिले के प्रत्येक नागरिक की जीवन की सुगमता का भी ध्यान रखना है. उन्होंने कहा कि हमें संक्रमण को भी रोकना है और दैनिक जीवन से जुड़ी जरूरी आपूर्ति को भी बेरोकटोक संचालित करना है.

कोरोना से संबंधित सुझाव दें जिलाधिकारी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि खुद को कोरोना से संक्रमित होने और अपने रिश्तेदारों को खोने के बावजूद कई अधिकारियों ने लोगों की सेवा जारी रखी. प्रधानमंत्री ने जिलाधिकारियों से कोरोना महामारी से निपटने के लिए अपने सुझाव देने को कहा, ताकि उन्हें महामारी से निपटने की योजना में शामिल किया जा सके. उन्होंने कहा कि जमीनी स्तर पर काम करने वाले अधिकारियों का काम फ्रंट लाइन वर्कर का मनोबल बढ़ाना है. इसके साथ ही, दवाओं और चिकित्‍सा उपकरणों की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करना भी.

Posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें