1. home Hindi News
  2. national
  3. on the announcement of giving free corona vaccine to people above 18 years the opposition said the decision was taken under the pressure of the court nda leaders said ksl

18 साल से ऊपर के लोगों को मुफ्त कोरोना वैक्सीन की घोषणा पर विपक्ष ने कहा- न्यायालय के दबाव में लिया फैसला, NDA के नेता बोले...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
फाइल फोटो

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा केंद्र सरकार की ओर से 18 साल से अधिक उम्र के देश के सभी लोगों को योग दिवस यानी 21 जून से कोरोना की वैक्सीन मुफ्त देने की घोषणा किये जाने के बाद विपक्षी नेताओं ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के दखल देने के बाद यह फैसला किया गया है. कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने कहा है कि फैसला का ''अंतर्निहित संदेश है कि सरकार ने अपनी गलतियों से सीखा है. उन्होंने दो प्रमुख गलतियां कीं और उन गलतियों को सुधारने का प्रयास किया. लेकिन, हमेशा की तरह झांसा और झांसा, पीएम ने अपनी गलतियों के लिए विपक्ष को दोषी ठहराया.''

केंद्र के मुफ्त टीकाकरण अभियान पर आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा ने कहा है कि ''सुप्रीम कोर्ट की खिंचाई के बाद केंद्र सरकार ने यह फैसला किया है. हम इसका स्वागत करते हैं. हमारी मांग राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान चलाने की भी थी, जिसकी अनदेखी की गयी. सुप्रीम कोर्ट के लगातार मशक्कत के बाद आखिरकार केंद्र जाग गया.''

वहीं, छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने कहा है कि ''सभी के लिए मुफ्त वैक्सीनेशन छह महीने पहले ही लागू हो जाना चाहिए था, लेकिन 'देर आये दुरस्त आये. केंद्र सरकार को पहले वैक्सीन नीति में कोई बदलाव नहीं करना चाहिए था. निजी अस्पतालों को दी गयी वैक्सीन की 25 फीसदी खुराक बहुत ज्यादा है.''

कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री डॉ अश्वत्नारायण ने कहा है कि ''पीएम ने सुनिश्चित किया है कि राज्यों को वैक्सीन मिलेंगे और युवाओं को तेज गति से वैक्सीन की खुराक दी जायेगी. वैक्सीन की खरीद के लिए वैश्विक निविदाएं जारी करने का अब कोई मतलब नहीं है, क्योंकि भारत सरकार द्वारा हमारी आवश्यकताओं को पूरा किया जाना है.''

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा है कि ''प्रधानमंत्री की यह घोषणा कि 21 जून से राज्यों को कोविड-19 वैक्सीन की मुफ्त आपूर्ति की जायेगी, इस समय सबसे उपयुक्त प्रतिक्रिया है. मुझे खुशी है कि हमारे अनुरोध पर प्रधानमंत्री ने सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है.''

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि ''मैं सभी आयु समूहों के लिए वैक्सीन की केंद्रीय खरीद और वितरण के हमारे अनुरोध को स्वीकार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को धन्यवाद देता हूं. मैंने इस मुद्दे पर पीएम को और स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन जी को दो बार लिखा था.''

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने कहा है कि ''मैं पीएम मोदी के उस बयान का स्वागत करता हूं, जिसमें यह संकेत दिया गया है कि केंद्र सरकार देश में उत्पादित 75 फीसदी वैक्सीन की खरीद करेगी और उन्हें राज्यों को मुफ्त में उपलब्ध करायेगी. मैं अपनी सरकार की पिछली स्थिति को उलटने के लिए भी पीएम की सराहना करता हूं.'' साथ ही कहा कि ''पीएम मोदी ने अपनी टिप्पणी में कई बार जोर दिया कि स्वास्थ्य एक राज्य का विषय है. प्रत्येक राज्य को टीकाकरण के पंजीकरण, सत्यापन और प्रशासन प्रक्रियाओं का पूर्ण नियंत्रण दिया जाना उचित होगा.''

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा है कि ''भारत को 'विश्व की फार्मेसी' के रूप में जाना जाता है. मैं जानना चाहता हूं कि क्या मोदी जी के पीएम बनने के बाद भारत को यह पहचान मिली है. मैं मोदी जी से अनुरोध करता हूं कि कृपया काम करें, लेकिन हर विषय पर अतीत में जाना और श्रेय लेना सही है.'' साथ ही कहा कि ''सरकार को पहले ही देर हो चुकी है और न्यायपालिका के दबाव में यह फैसला लिया है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मुफ्त वैक्सीन के लिए अभियान शुरू किया था. हालांकि, पहले से कहीं ज्यादा देर हो चुकी है.''

एनडीए के नेताओं ने भी दी प्रतिक्रिया

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि 'मोदी सरकार ने हमेशा लोगों की सुरक्षा और स्वास्थ्य के प्रति दृढ़ संकल्प के साथ काम किया है. देश भर में 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को मुफ्त कोविड वैक्सीन प्रदान करने के ऐतिहासिक निर्णय के लिए मैं पीएम नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देता हूं.''

वहीं, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है ''18 साल से ऊपर के सभी लोगों के लिए मुफ्त टीके (केंद्रीकृत टीकाकरण अभियान) जनता के लिए एक बड़ी राहत है. मैं इस जन कल्याणकारी निर्णय के लिए प्रधानमंत्री को बधाई देता हूं.''

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा है कि ''हम सभी देशवासियों को मुफ्त टीके उपलब्ध कराने और 80 करोड़ लोगों के लिए दीवाली तक पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार करने के लिए पीएम मोदी का हार्दिक आभार व्यक्त करते हैं. हमारा मकसद है कि प्रत्येक व्यक्ति को भोजन मिले और सभी को टीका लगाया जाये.''

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि ''मैं पीएम मोदी को 18 साल से ऊपर के लोगों के लिए मुफ्त टीके की घोषणा करने और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को दिवाली तक बढ़ाने के लिए धन्यवाद देता हूं. यह कोविड-19 से लड़ने में मददगार होगा.''

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि ''मैं राज्यों को मुफ्त वैक्सीन के निर्णय के लिए पीएम मोदी का आभार व्यक्त करता हूं, इससे राज्यों पर अतिरिक्त बोझ नहीं पड़ेगा. 18 से ऊपर के सभी लोगों के लिए मुफ्त टीकाकरण कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर को हराने में एक लंबा रास्ता तय करेगा.''

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें