1. home Hindi News
  2. national
  3. nasa reveals that mars had periods of being dry and wet nasa curiosity rover rkt

Water on Mars: मंगल ग्रह पर कभी पानी भी था मौजूद, NASA के क्यूरोसिटी रोवर ने दी महत्वपूर्ण जानकारी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
मंगल ग्रह पर कभी पानी भी था मौजूद
मंगल ग्रह पर कभी पानी भी था मौजूद
फोटो - ट्वीटर

नासा के क्यूरोसिटी रोवर ने मंगल ग्रह के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी भेजी है. रोवर से मिले डेटा का अध्ययन करने पर पता चला है कि लाल ग्रह वीरान ही नहीं, कभी सूखा-कभी गीला भी था. अध्ययन में दावा किया गया है कि मंगल ग्रह पर लंबे वक्त तक सूखा रहता था और फिर कुछ वक्त पानी रहता था. मंगल ग्रह की चट्टानों की बनावट से ऐसे संकेत मिले हैं. चेमकॉम इंस्ट्रूमेंट और टेलिस्कोप की मदद से लाल ग्रह की सेडिमेंटरी चट्टानों के तले की स्टडी की गयी है.

रोवर फिलहाल गेल क्रेटर के अंदर एलीस मॉन्स नाम के एक पहाड़ पर है. यहां मिले डेटा के आधार पर वैज्ञानिकों ने संभावना जतायी है कि कई सौ फुट तक धूल से बनी लाल ग्रह की चट्टान के तले में बनावट तेजी से बदलती है. माउंट शार्प के निचले हिस्से में गीली मिट्टी है और ऊपर रेत का टीला है, जो आंधी के साथ जगह बदलता रहता है. वैज्ञानिकों ने संभावना जतायी है कि सूखे काल के दौरान इन टीलों ने आकार लिया होगा.

इसके साथ ही यह भी संकेत मिलते हैं कि लाल ग्रह पर कभी गीला मौसम रहा होगा और हो सकता है गेल क्रेटर के अंदर पानी भरा हो. अपने मिशन के दौरान क्यूरोसिटी को माउंट शार्प से डेटा लेना है. यहां मिले बदलावों से पता चल सकेगा कि यहां मौसम कैसे विकसित हुआ. इसके पीछे के कारणों का पता लगाया जायेगा. कुछ दिन पहले क्यूरोसिटी ने मंगल के बादलों का वीडियो भेजा था. ये नजारे उसके ऊपर लगे कैमरों में कैद हुए थे.

मार्स हेलीकॉप्टर की कल पहली उड़ान

नासा का इंजेंविनिटी मार्स हेलीकॉप्टर सोमवार को इतिहास रचने जा रहा है. 1.8 किलो का रोटरक्राफ्ट सोमवार की दोपहर 12:30 बजे (मंगल ग्रह का समय) मंगल के जेजेरो क्रेटर से उड़ान भरेगा. बताया जा रहा है कि ये 30 सेकेंड तक सतह से 10 फीट ऊपर उड़ेगा. दक्षिणी कैलिफोर्निया में नासा की जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी के मिशन कंट्रोल विशेषज्ञों को उम्मीद है कि अगले दिन सुबह 4:15 बजे इडीटी (1:15 बजे पीडीटी) से पहली उड़ान का प्रयास किया जायेगा. नासा टीवी टीम के लाइव कवरेज को प्रसारित करेगा.

नासा पूरी तरह तैयार

नासा इस हेलीकॉप्टर की टेस्ट फ्लाइट के लिए पूरी तरह से तैयार है. नासा ने इसके रोटर को घुमा कर भी चेक किया है. ये बिल्कुल सही से काम कर रहा है. नासा ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. रोवर परसिवरेंस की तरफ से किये गये इस ट्वीट में कहा गया है कि मेरे पास इस फ्लाइट को देखने और निगाह बनाये रखने के लिए जूमिंग कैमरे होंगे. आप हेलीकॉप्टर इंजेंविनिटी को मेरे नेविगेशन कैमरों से देख सकते हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें