1. home Hindi News
  2. national
  3. mukesh ambani threat updates suv owner name gelatin sticks case mumbai police nita ambani nia car ka malik amh

Mukesh Ambani Threat : मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटकों के साथ मिली एसयूवी का मालिक निकला ये शख्‍स

By Agency
Updated Date
Mukesh ambani house
Mukesh ambani house
pti
  • वाहन पिछले हफ्ते चोरी हो गया था

  • राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने भी मामले की जांच शुरू कर दी

  • एसयूवी में ढाई किलोग्राम जिलेटिन की छड़ें रखी हुई थी

उद्योगपति मुकेश अंबानी के यहां स्थित आवास के पास विस्फोटकों (mukesh ambani threat) के साथ गुरुवार को खड़ा पाया गया वाहन पिछले हफ्ते चोरी हो गया था. इसके अंदर से एक पत्र भी मिला है, जिसमें इसे आने वाली चीजों की महज एक झलक बताया गया है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है और मुंबई पुलिस की अपराध शाखा से संपर्क किया है. पुलिस ने बताया कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष, अंबानी के आवास एंटीलिया के पास गुरुवार की शाम एक स्कॉर्पियो खड़ी पायी गयी थी, जिसमें ढाई किलोग्राम जिलेटिन की छड़ें रखी हुई थी.

पुलिस ने बताया कि इसके अंदर तैयार विस्फोटक उपकरण नहीं था और न ही डेटोनेटर और बैटरियां थीं. वाहन की नंबर प्लेट भी अंबानी की सुरक्षा में शामिल एक एसयूवी के समान ही थी. पुलिस को स्कॉर्पियो के अंदर चार नंबर प्लेट मिले जिनमें दो अंबानी परिवार की सुरक्षा में लगे वाहनों से मिलते-जुलते हैं.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि वाहन के मालिक ने अपनी स्कॉर्पियो (स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल) चोरी हो जाने के बारे में पुलिस के पास एक शिकायत दर्ज कराई थी. सीसीटीवी फुटेज में दिखा कि एसयूवी गुरुवार की सुबह वहां खड़ी की गई थी और इसका चालक एक इनोवा में फरार हो गया जो वहां तक साथ आई थी. स्कॉर्पियो और इनोवा दोनों का नंबर प्लेट भी फर्जी पाया गया था. स्कॉर्पियो का चेचीस नंबर भी खुरच दिया गया था.

अधिकारी ने बताया कि वाहन के मालिक हिरेन मनसुख ने टीवी पर देखा कि अंबानी के घर के पास पाया गया वाहन उनकी एसयूवी जैसा ही दिख रहा है, जिसके बाद आज दोपहर वह दक्षिण मुंबई में पुलिस आयुक्त कार्यालय गये. उन्होंने बताया कि उनका (मनसुख का) बयान मुंबई अपराध शाखा की अपराध खुफिया इकाई द्वारा दर्ज किया जाएगा.

ठाणे के रहने वाले मनसुख ने बाद में संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने अपने वाहन की स्टीयरिंग जाम होने पर उसे 17 फरवरी को आइरोली मुलंद पुल के पास खड़ा कर दिया था. उस वक्त वह एक पारिवारिक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे. उन्होंने बताया कि अगले दिन, जब मैं अपना वाहन लाने गया तो वह वहां नहीं दिखा। इसके बाद मैंने करीब चार घंटे तक उसे ढूंढा। मुझे इसके चोरी हो जाने की आशंका हुई, जिसके बाद मैंने विखरोली पुलिस थाने में एक शिकायत दर्ज कराई.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कार से बरामद एक पत्र कथित तौर पर अंबानी, उनकी पत्नी और उनके परिवार को संबोधित है. यह पत्र हिंदी भाषा में है , लेकिन इसे रोमन लिपि में लिखा गया है. पत्र में कहा गया है कि यह एक झलक भर है, लेकिन अगली बार सामान (विस्फोटक) पूरी तरह से तैयार रहेगा.

यह पत्र चालक की सीट के ठीक आगे नीले रंग के थैले में रखा हुआ था, जबकि जिलेटिन की छड़ें इसके निर्माता, ‘सोलर इंडस्ट्रीज, नागपुर' के नाम से एक पैकेट में रखी हुई थी. कार से ‘मुंबई इंडियंस' छपा हुआ एक थैला भी मिला. वहीं, नागपुर के सोलर इंडस्ट्रीज के मालिक सत्यनारायण नुवाल ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि पैकेट मिलने के बारे में उन्हें मुंबई पुलिस का एक कॉल आया है. बयान में कहा गया है कि विस्फोट नियम, 2008 के तहत कंपनी द्वारा विस्फोटकों के उत्पादन एवं बिक्री के सभी डेटा विस्फोट विभाग एवं पुलिस को सौंप दिये गये हैं.

बयान में यह भी कहा गया है कि उसके द्वारा उत्पादित विस्फोटकों (जिलेटिन की छड़ें) में डेटोनेटर के बगैर विस्फोट नहीं किया जा सकता. मुंबई पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि गामदेवी पुलिस थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गई है. मुंबई पुलिस ने मामले की जांच के लिए कम से कम दस टीमों का गठन किया है.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें