1. home Hindi News
  2. national
  3. lockdown relief gym yoga center ppe kit trainer

जिम दोबारा खुलने के तैयार, पीपीई किट में नजर आएंगे ट्रेनर

By Agency
Updated Date
जिम
जिम
फाइल फोटो

नयी दिल्ली : कोरोना वायरस के प्रसार की रोकथाम के मद्देनजर लागू लॉकडाउन के कारण करीब चार महीने बंद रहने के बाद दोबारा जिम खोले जाने को लेकर संचालनकर्ता उत्साहित हैं और संक्रमण से बचाव के लिए पूरी तैयारी कर रहे हैं.

राष्ट्रीय राजधानी के जिम के संचालनकर्ताओं ने कीटाणुनाशक का इंतजाम करने के साथ ही लगातार सेनेटाइज करने के मकसद से अधिक लोगों को काम पर रखा है. एक तरफ जहां ट्रेनर (प्रशिक्षणदाता) पीपीई किट पहनकर प्रशिक्षण देंगे, वहीं दूसरी ओर आरोग्य सेतू ऐप का उपयोग भी अनिवार्य किया गया है.

इतना ही नहीं कुछ जिम वालों ने तो अपने सदस्यों को अनिवार्य रूप से अपनी बीमारियों से संबंधित जानकारी देने को कहा है. साथ ही एक शपथपत्र देना होगा कि वे कोरोना वायरस संक्रमित नहीं हैं. हालांकि, मास्क पहनना अनिवार्य नहीं किया गया है क्योंकि अधिक व्यायाम करने की सूरत में सांस लेने में दिक्कत आ सकती है. केंद्र ने बुधवार को अनलॉक-3 के तहत जारी दिशा-निर्देशों में पांच अगस्त से जिम और योग केंद्रों को दोबारा खोले जाने की अनुमति दी है.

ये 25 मार्च से लागू देशव्यापी लॉकडाउन के बाद से ही बंद थे. कई जिम के मालिकों ने पीटीआई-भाषा से कहा कि हर बार इस्तेमाल के बाद उपकरणों को सेनेटाइज करने पर ध्यान देंगे और एक समय पर सीमित संख्या में ही सदस्यों को व्यायाम की अनुमति दी जाएगी. देश की सबसे बड़ी जिम श्रृंखला में से एक ''ओजोन'' के मालिक नवीन कंधारी ने कहा, '' हम किसी भी सामूहिक गतिविधि की अनुमति नहीं देंगे.

यहां 2,000 वर्ग फुट क्षेत्र में केवल 10 लोग व्यायाम करेंगे. प्रत्येक सदस्य के लिए एक व्यक्तिगत ट्रेनर होगा.'' उन्होंने कहा कि सदस्यों को अपनी सेहत और बीमारियों के संबंध में एक शपथपत्र देना होगा और उन्हें अलग से अपना तौलिया और चप्पल लानी होगी. कंधारी ने कहा कि सदस्यों के लिए आरोग्य सेतू ऐप अनिवार्य रहेगा.

मयूर विहार में ''हिबिस्कस स्पा'' चलाने वाले अनूप नायर ने कहा कि कोरोना वायरस के लक्षण वाले सदस्यों को प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी. उन्होंने कहा कि मुख्य प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनिंग की जाएगी और हर उपकरण के साथ सेनेटाइजर उपलब्ध रहेगा. एमआर फिटनेस जोन के मालिक महेश भाटी ने कहा कि वह एक पारी में केवल आठ सदस्यों को ही अनुमति देंगे ताकि वे सामाजिक दूरी के नियमों का आसानी से पालन कर सकें. उन्होंने कहा कि हर इस्तेमाल के बाद मशीनों को सेनेटाइज करने के लिए तीन सहायकों को तैनात किया गया है .

Posted By - Pankaj Kumar Pathak

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें