1. home Hindi News
  2. national
  3. important meeting of rashtriya swayamsevak sangh is over discussed these big issues including ram temple population control pkj

राम मंदिर, जनसंख्या नियंत्रण सहित इन बड़े मुद्दों पर संघ के नेताओं का मंथन, जानें हर बड़ी बात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Rashtriya Swayamsevak Sangh meeting
Rashtriya Swayamsevak Sangh meeting
file

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की चार दिनों की बैठक चित्रकूट के आरोग्यधाम में खत्म हो गयी. यह बैठक कई मायनों में अहम थी. इसमें संघ प्रमुख मोहन भागवत शामिल हुए थे. बैठक में ऑनलाइन भी लोगों को जोड़ा गया था. बैठक में ना सिर्फ उत्तर प्रदेश के आगामी चुनाव पर चर्चा हुई बल्कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर, राम मंदिर, जनसंख्या नियंत्रण कानून सहित देश के कई ताजा और अहम मुद्दों पर चर्चा हुई.

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर पर चर्चा

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की बैठक में संघ के नेताओं ने देश में कोरोना संक्रम की ताजा स्थिति और संभावित तीसरी लहर को लेकर चर्चा हुई. देश इस तीसरी लहर से निपटने केलिए कितना तैयार है, देश में लोगों को तीसरी लहर में कौन- कौन सी परेशानियों को सामना करना पड़ सकता है. देश के अस्पताल और स्वास्थ्य सुविधाएं कितनी तैयार हैं. इसे लेकर लंबी चर्चा हुई इस चर्चा में कैसे संक्रमण से लोगों को दूर रखा जा सकता है इस पर भी चर्चा हुई.

राम मंदिर पर चर्चा

अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर भी संघ की बैठक में चर्चा हुई. सूत्रों के अनुसार इस बैठक में राम मंदिर निर्माण के लेकर राम मंदिर ट्रस्ट के सचिव चंपत राय को चेतावनी दे दी गयी है उनसे स्पष्ट तौर पर कहा गया है कि इसमें किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी. राम मंदिर के निर्माण में पारदर्शिता रखने पर भी चर्चा हुई है. संघ ने राम मंदिर मुद्दों को लेकर रणनीतिक फैसला लिया है. संघ ने कार्यकर्ताओं को 12.70 करोड़ परिवार में घर - घर जाकर राम मंदिर में सहयोग देने के लिए धन्यवाद कहने का आभार दिया है. बैठक में हुए इस फैसले के बाद संघ कार्यकर्ता घरों तक पहुंचकर धन्यवाद कहेंगे.

जनसंख्या नियंत्रण नीति

उत्तर प्रदेश की नयी जनसंख्या नीति को लेकर चर्चा तेज है. इस बैठक में भी यूपी की नयी जनसंख्या नीति पर चर्चा हुई. सूत्रों की मानें तो संघ ने इस नये कानून का समर्थन किया है. इसके अलावा गोहत्या पर रोक को लेकर भी आने वाले कानून की चर्चा हुई. इस कानून पर भी सहमति बनी है. जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर संघ ने कुछ सुधार के संकेत दिये हैं लेकिन साथ ही इसका पूरी तरह समर्थन किया है. बैठक में जनसंख्या नियंत्रण को अहम बताया गया है.

संघ में भी बदलाव

बैठक के दौरान संघ में भी कुछ जरूरी फेरबदल किये गये संयुक्त महासचिव अरुण कुमार को राजनीतिक मुद्दों के लिए समन्वयक बनाया है उन्होंने संयुक्त महासचिव कृष्ण गोपाल की जगह ली. कोरोना संक्रमण के दौरान वैसी शाखाओं को फिर से शुरू करने की रणनीति तैयार की जा रही है. इस बैठक में 50 से 55 लोग पहुंचे जबकि 250 लोगों ने ऑनलाइन ही बैठक में हिस्सा लिया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें