1. home Home
  2. national
  3. i thank mamata didi abhishek banerjee and tmc for giving me a chance in playing 11 says babul supriyo mtj

ममता बनर्जी के प्लेइंग 11 में बाबुल सुप्रियो, पूर्व बीजेपी लीडर ने कही ये बात

तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने उन्हें प्लेइंग 11 में खेलने का मौका दिया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बाबुल सुप्रियो
बाबुल सुप्रियो
Twitter

कोलकाता: राजनीति से संन्यास लेने के बाद पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस का दामन थामने वाले बाबुल सुप्रियो ने रविवार को धन्यवाद दिया. कहा कि तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने उन्हें प्लेइंग 11 में खेलने का मौका दिया है. कोलकाता में टीएमसी के सीनियर लीडर और सांसद सौगत रॉय के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में बाबुल सुप्रियो ने यह बात कही.

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के फायर ब्रांड लीडर रहे आसनसोल के लोकसभा सांसद बाबुल सुप्रियो ने शनिवार को तृणमूल कांग्रेस का दामन थामने के बाद कहा कि वह जानते हैं कि अब सोशल मीडिया पर उन्हें जमकर ट्रोल किया जायेगा. उन्होंने कहा कि वह कम से कम सात साल से राजनीति कर रहे हैं. सही और गलत का ज्ञान उन्हें हो गया है. तृणमूल कांग्रेस ने उन्हें अपने साथ जोड़ने का फैसला किया, यह मेरे लिए एक बहुत बड़ा अवसर है.

उल्लेखनीय है कि शनिवार को अचानक बाबुल सुप्रियो ने तृणमूल कांग्रेस का झंडा थाम लिया. पार्टी महासचिव अभिषेक बनर्जी और राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने उन्हें तृणमूल कांग्रेस में शामिल करवाया. इस अवसर पर बाबुल सुप्रियो ने कहा था कि पार्टी उन्हें जो भी जवाबदेही देगी, वह उसके लिए तैयार हैं.

सात साल तक नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में मंत्री रहे बाबुल सुप्रियो ने जुलाई में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से अपना नाता तोड़ लिया था. उन्होंने कहा था कि वह लोकसभा की सदस्यता भी छोड़ देंगे, क्योंकि वह राजनीति से संन्यास लेना चाहते हैं. केंद्रीय कैबिनेट से हटाये जाने के बाद बाबुल सुप्रियो ने फेसबुक पर एक लंबा पोस्ट लिखकर बीजेपी से किनारा कर लिया था.

तृणमूल ने दिल खोलकर किया बाबुल सुप्रियो का स्वागत

बाबुल सुप्रियो ने कहा था कि वह राजनीति से संन्यास ले रहे हैं. वह किसी और पार्टी में शामिल नहीं होंगे. लेकिन, दो महीने तक भी वे अपने राजनीति से संन्यास के फैसले पर नहीं टिके और पश्चिम बंगाल के सत्ताधारी दल में शामिल हो गये. तृणमूल कांग्रेस ने बांहें पसार कर उनका स्वागत किया है.

बाबुल सुप्रियो और देबश्री चौधरी को जब पीएम नरेंद्र मोदी की कैबिनेट से हटाया गया था, तब बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार और पीएम मोदी के खिलाफ तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी. अब जबकि बाबुल ने टीएमसी का दामन थाम लिया है, बीजेपी ने कहा है कि बॉलीवुड सिंगर की लोकप्रियता अब खत्म हो चुकी है. इससे बीजेपी को कोई नुकसान नहीं होगा.

इससे पहले, बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और कभी ममता बनर्जी के बेहद करीबी रहे शुभेंदु अधिकारी ने कहा था कि यदि बाबुल सुप्रियो को तृणमूल कांग्रेस में ही शामिल होना था, तो उन्हें पार्टी को इसके बारे में पहले बता देना चाहिए था. आपको बता दें कि बाबुल ने फेसबुक पर लिखा था कि किसी पार्टी में नहीं जा रहा हूं. तृणमूल में तो नहीं. उन्होंने कहा था कि मैंने एक ही पार्टी को सपोर्ट किया- मोहन बगान और एक ही पार्टी की- बीजेपी.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें