1. home Hindi News
  2. national
  3. fraud online fraud lockdown fraud fraud on google

ऑनलाइन ठगी - घर पर शराब पहुंचाने का झांसा, 'गूगल पे' पर मांग रहे हैं एडवांस

By PankajKumar Pathak
Updated Date
शराब के नाम पर ऑनलाइन ठगी
शराब के नाम पर ऑनलाइन ठगी
सोशल मीडिया

अगर आप शराब के शौकिन है और लॉकडाउन में शराब के लिए परेशान है तो आप शिकार हैं उन चालाक फ्रॉड करने वालों को जो आसानी से आपसे ठगी कर सकते हैं.

सोशल साइट पर कई फेसबुक पेज हैं. एक फेसबुक पेज बना है. देशी वाइन शॉप के नाम से. इस पेज में फोन नंबर के साथ गारंटी दी गयी है कि शराब आपके घर तक पहुंचेगी. बस आपको आधा पैसा एडवांस देना होगा बाकि काम होने के बाद. इस फेसबुक पेज को भी खूब शेयर किया जा रहा है कहीं कोरोना ऑफर लिखर इसे शेयर किये गया है तो कहीं ऑनलाइन मिल रही है शराब यह लिखकर शेयर कर दिया गया है.

पड़ताल

हमने फेसबुक पेज पर दिये गये नंबर पर फोन मिलाया. सामने वाले ने फोन उठाते ही कहा वाइन शॉप बताइये क्या चाहिए.

रिपोर्टर- जुगाड़ है ?

फ्रॉड- हां मिलेगा क्यों नहीं मिलेगा हम आप ही की सेवा में तो 24 घंटे हैं बताइये कौन सा ब्रांड चाहिए कितना चाहिए ?

रिपोर्टर- कौन - कौन सा ब्रांड है ?

फ्रॉड - सभी ब्रांड हैं कोरोड़ों का माल है, हमारे पास आपको कितना चाहिए कौन सा चाहिए ?

रिपोटर - फलां ब्रांड की दो बोतल भेज दो ?

फ्रॉड - ठीक है आप अपना पता और एडंवास हमें दे दीजिए ?

रिपोर्टर - मॉल भेजो पैसा ले लो

फ्रॉड - नहीं सर, आपको एडवांस देना होगा तभी मॉल जायेगा

रिपोर्टर- पैसा कैसे देना होगा

फ्रॉड - गूगल पे, पेटीएम या अपना कार्ड नंबर बताइये, हम यहां से लेंगे ओटीपी आयेगा उसे बता देना बस.

रिपोर्टर- कितना लगेगा ?

फ्रॉड- वही जो लगता है हम लॉकडाउन का लाभ नहीं उठा रहे हैं , हम दूसरों की तरह नहीं है कि इससे पैसा बनायेगा

रिपोर्टर- आप दाम बताइये

फ्रॉड - आप जितना में भी लेते थे वही लेंगे आपको 30 मिनट के अंदर मॉल मिल जायेगा.

रिपोर्टर - आप पर तो भरोसा है लेकिन ऑनलाइन ठगी बढ़ गयी है, मैं पहले कैसे पैसा दे दूं ?

फ्रॉड- एक करोड़ का मॉल है मेरे पास आप सोचिये कैसे बेचूंगा. एक बार मॉल मंगवा लीजिए आप दस हजार बार थैक्यूं बोलेंगे. सारी ऊंगलियां बराबर नहीं होते.

रिपोर्टर - आप कहां से बोल रहे हैं , कितना ऑर्डर लिया है अबतक

फ्रॉड - झारखंड से बात कर रहा हूं. अबतक 25 से 30 आर्डर ले लिया है.

हमसे बातचीत में वह बार - बार ऑनलाइन पेमेंट के लिए जिद करता रहा, अंत में नाराज होकर उसने फोन काट दिया.

क्या कर रहा है प्रशासन

हमने पूरी बातचीत की जानकारी उत्पाद आयुक्त भोर सिंह यादव को दी उन्होंने बताया कि इस संबंध में हमने पहले ही कार्रवाई की है. साइबर थाना ने इस पर शिकायत दर्ज कर ली है. कार्रवाई हो रही है. हमने उत्पाद आयुक्त से पूछा, नंबर अभी भी लग रहा है कई और लोग इसके ठगी के शिकार हो सकते हैं ? इस संबंध में विस्तार से जानकारी तो साइबर थाना से ही मिलेगी मैं बस इतना बता सकता हूं कि इस पर कार्रवाई हो रही है.

आयुक्त भोर सिंह यादव ने बताया , हमने भी इस ठग से चार दिनों पहले फोन पर बातचीत की थी वह लोगों से बातचीत में शराब उलब्ध कराने की बात कहता है एडवांस में पैसे लेकर लोगों को ठगता है. बातचीत यह पूरी तरह अंदाजा लगाया जा सकता है कि बंदा झारखंड का नहीं है यह दिल्ली, हरियाणा या यूपी की तरफ का लगता है. दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर इस मामले में काम करना होगा.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें