1. home Hindi News
  2. national
  3. fit india movement 2020 first anniversary live latest updates pm narendra modi virtual samvad virat kohli milind soman rujuta diwekar fitness influencers participate in event news in hindi smt

Fit India 2020 : पीएम मोदी ने बताया खाता हूं सहजन की रोटी, मां बराबर पूछती है हल्दी ले रहे हो...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Fit India Movement 2020, first anniversary, pm modi, Virat Kohli, Milind Soman
Fit India Movement 2020, first anniversary, pm modi, Virat Kohli, Milind Soman
Prabhat Khabar Graphics

Fit India Movement 2020, first anniversary, latest updates, pm modi, Virat Kohli : फिट इंडिया कार्यक्रम शुरू हो चुका है. इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) फिट इंडिया मूवमेंट (Fit India Movement) की मुहिम को आगे बढ़ाते हुए फिटनेस जगत की हस्तियों से संवाद कर रहे हैं. इस कार्यक्रम में विराट कोहली (Virat Kohli), मॉडल, अभिनेता और धावक मिलिंद सोमन (Milind Soman) के अलावा पोषण विशेषज्ञ रुजुता दिवेकर समेत अन्य खेल जगत की कई बड़ी हस्तियों शामिल हैं.

फिट इंडिया संवाद अपडेट :

पीएम का फिटनेस मंत्र

1:05 बजे : प्रधानमंत्री मोदी ने देश के सभी नागरिकों को फिटनेस और शारीरिक गतिविधियों को गंभीरता से लेने का आग्रह किया है. खासकर इस कोरोना महामारी के दौरान 'फिटनेस की खुराक' लेने की लोगों से अपील की. उन्होंने कहा कि हर दिन आधा घंटे का फिटनेस डोज हमारे स्वस्थ शरीर और दिमाग के लिए जरूरी है.

मुकुल कानिटकर का फिटनेस के बारे राय

1:00 बजे : मुकुल कानिटकर कहते हैं कि अगर पूरा समाज फिट रहने का फैसला कर ले तो हर एक व्यक्ति खुद को फिट बनाने के लिए कुछ भी करने को तैयार रहेगा. उन्होंने खुशी जताते हुए कहा कि मुझे अच्छा लग रहा है कि आज लोग इसी ओर अग्रसर हो रहे हैं. वे बताते हैं कि पीएम मोदी के सूर्य नमस्कार वीडियो देखने के बाद, मुझे बेहद अच्छा लगा और मैं काफी प्रेरित हुआ.

मोदी ने ईट लोकल, थींक ग्लोबल के अपने वोकल लोकल अभियान से जोड़ते हुए कहा कि इस कोरोना काल में मैं जब भी अपनी मां से बात करता हूं तो वो कहती हैं कि तो हल्दी का सेवन करता है कि नहीं. उन्होंने अपनी रेसिपी का खुलासा करते हुए बताया कि सहजन यानि मोरिंगा के पराठे खाता था और आज भी सप्ताह में एक दो बार सेवन करता हूं.

विराट कोहली ने किया अपने फिटनेस का खुलासा

12.56 बजे : विराट कोहली ने कहा कि हमारे खेल के लिए पहले हमारी फिटनेस एक्टिविटी काफी नहीं थी, इसमें विशेष सुधार की जरूरत थी. उन्हानें बताया कि आज भी मुझे याद है. दिल्ली के छोले भटूरे. उन्होंने यह भी कहा कि वे कैसे अपने किशोराव्स्था में सारे पैकेज्ड फूड्स का सेवन करते थे. हालांकि, उन्होंने यह भी माना कि यह मेरे स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं था और इसमें बदलाव की जरूरत थी. वे बताते हैं कि अगर हम खुद को फिट नहीं रखेंगे, तो जीवन में लगातार हो रहे बदलाव में आप पिछड़ा हुआ महसूस करेंगे. आपकी मानसिक शक्ति आपके दिमाग और शरीर की ताकत का मेल है. बहुत सी छोटी-छोटी चीजें हैं जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए.

रुजुता दिवेकर के स्वास्थ्य टिप्स

12:37 बजे : सेलिब्रिटी व पोषण विशेषज्ञ रुजुता दिवेकर ने 'ईट लोकल' के बारे में बात करते हुए कहा कि हमें लोकल फूड्स का सेवन करना चाहिए. ऐसा करने से उस क्षेत्र का किसानों के साथ-साथ हम स्वास्थ्य को संतुलन में ला सकते हैं. रुजुता ने बताया है कि घी अमेरिका में सबसे ज्यादा खोजा जाने वाला शब्द है. जो गांव के घर-घर का प्रोडक्ट है. घर का बना खाना खाने से हम फिट रह पाएंगे. यही नहीं हमारी दादी-नानी के नुस्खे को आज विज्ञान सही मान रहा है जिसका सदियों पहले से वर्णन हो चुका है और लोग इस्तेमाल भी कर रहे हैं. वे आगे बताती हैं कि हमें स्थानीय चिजों का सेवन करना चाहिए. हल्दी स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा होता है. इस बीच, पीएम मोदी ने अपनी खुद की रेसिपी भी शेयर की और खुलासा किया कि वह पहले परांठे बनाते थे और आज भी बनाया करते हैं.

मिलिंद सोमन फिटनेस के बारे में बोलते हैं

12:15 बजे : मिलिंद सोमन की मानें तो फिट इंडिया आंदोलन जरूरी है. यह शानदार काम हो रहा है. फिट रहने के लिए हर किसी को मेहनत करना जरूरी है. कोरोना काल में इसकी अहमियतता और बढ़ गयी है लोग अब इसे समझ रहे हैं. बहुत सारे लोग मुझसे मेरी उम्र और फिटनेस के बारे में पूछते हैं. मैं उन्हें बताता हूं कि मेरी 81 वर्षी मां मेरी प्रेरणा हैं. हमारे दादा-परदादा बहुत चला करते थे. यहां तक कि आज भी गांव की महिलाएं बहुत चलती हैं. लेकिन, शहरों में जहां तकनीक में वृद्धि हुई है, ऐसे में लोग आलस्य का शिकार होते जा रहे हैं. वे बताते हैं कि जितना अधिक हम बैठते हैं, हम अपनी ऊर्जा खोते जाते हैं. कोई व्यक्ति 100 किमी तक आसानी से चल या दौड़ सकता है. फिट इंडिया आंदोलन लोगों को फिटनेस के बारे में समझने में मदद करने का बहुत बड़ा अभियान है. वे बताते हैं कि आपके पास जो कुछ भी है, उसी का उपयोग करके आप फिट रह सकते हैं. इसी बीच मोदी ने कहा कि प्रतिस्पर्धा को टांग खींचना नहीं मानना चाहिए, यह तंदरूस्ती की निशानी है.

अफशां आशिक की फिटनेस कहानी

12:15 बजे : जम्मू-कश्मीर के फुटबॉलर अफशां आशिक ने कहा कि वह शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से खेल को इंजॉय करती है. वे अपने फिटनेस के लिए महेंद्र सिंह धोनी से प्रेरणा लेती हैं.

भारतीय पैरालम्पिक के जैवलिन प्लेयर देवेंद्र झाझरिया का फिटनेस मंत्र

12:10 बजे : भारतीय पैरालम्पिक के जैवलिन प्लेयर देवेंद्र झाझरिया ने कहा कि खेल के दौरान उनका कंधा गंभीर रूप से घायल हो गया था. हालांकि, उन्होंने इस चोट से उबरने के लिए व्यायाम का सहारा लिया और फिलहाल वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं. आपको बता दें कि उन्होंने इस चोट के दौरान अपना एक हाथ खोदिया था. उन्होंने मां के बारे भी बताते हुए कहा कि वे भी प्रतिदिन सुबह टहलने जाती है.

यहां से देखें पूरा कार्यक्रम

दरअसल, एक आधिकारिक बयान में मंगलवार को ही इसकी सूचना दी गयी थी कि फिट इंडिया मूवमेंट की पहली सालगिरह पर पीएम मोदी लाइव आयेंगे. इस दौरान वे स्वस्थ जीवनशैली पर अपने विचार लोगों से साझा करेंगे. इस वर्चुअल संवाद के दौरान क्रिकेटर विराट कोहली और धावक मिलिंद सोमन जैसे हस्ती भी कार्यक्रम का हिस्सा होंगे.

आपको बता दें कि कोरोना काल में फिट इंडिया संवाद देश के नागरिकों के लिए अहम साबित होने वाला है. इस दौरान भारत को एक फिट राष्ट्र कैसे बनाया जाए, इसकी योजनाओं को लेकर प्रयास पर चर्चा की जायेगी.

फिट इंडिया मूवमेंट का इतिहास (Fit India Movement History)

भारत में राष्ट्रीय खेल दिवस प्रत्येक वर्ष 29 अगस्त को मनाया जाता है. इस दिन को स्वर्ण पदक जीतने वाले हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद सिंह के जन्मदिन के रूप में भी मनाया जाता है. वे तीन बार भारत के लिए ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीते थे. यही कारण है कि प्रधानमंत्री मोदी ने इसी दिन वर्ष 2019 में फिट इंडिया की शुरूआत की. इस दौरान उन्होंने देशवासियों से आलस्य त्यागकर शारीरिक गतिविधयां बढ़ाने की अपील की थी. जिससे असामयिक मौतों से बचा जा सकता है.

फिट इंडिया मूवमेंट का महत्व (Fit India Movement Importance)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिट इंडिया मूवमेंट का शुभारंभ 29 अगस्त 2019 को किया था. उन्होंने स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए इस अभियान की शुरूआत की. फिट इंडिया को जनआंदोलन बनाकर वे एक नये फिट राष्ट्र का निर्माण करना चाहते हैं. दरअसल, कोरोना से पूर्व के आंकड़े देखे जाएं तो भी आप चौंक जायेंगे. भारत में बड़ी संख्या में लोगों की मौत जिन बीमारियों से हो रही है उनमें से ज्यादातर, लोगों की खराब जीवनशैली और खानपान ही वजह है. ऐसे में इसे मात्र शारिरिक रूप से सक्रिय होकर (फिजिकल ऐक्टिवटी), एक्सरसाइज, योग आदि करके काबू पाया जा सकता है.

फिट इंडिया संवाद कितने बजे से

24 सितंबर को दोपहर 12 बजे वेबसाइट pmindiawebcast.nic.in/ पर कोई भी व्यक्ति इस संवाद में शामिल हो सकता है.

Posted by : Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें