1. home Hindi News
  2. national
  3. elgar case father stan swamy demands straw and sipper to drink in jail petition filed in special court vwt

एल्गार मामला : फादर स्टैन स्वामी ने जेल में ड्रिंक के लिए मांगी ‘स्ट्रॉ' और 'सिपर', रांची से हुई थी गिरफ्तारी

By KumarVishwat Sen
Updated Date
फादर स्टेन स्वामी.
फादर स्टेन स्वामी.
फाइल फोटो.

मुंबई : एल्गार परिषद के कथित माओवादी से संबंध रखने के मामले में गिरफ्तार 82 वर्षीय मानवाधिकार कार्यकर्ता (Human Right Activist) फादर स्टैन स्वामी ने यहां एक विशेष अदालत (Special Court) में याचिका दायर करके अनुरोध किया है कि उन्हें पेय पदार्थ पीने के लिए जेल में एक ‘स्ट्रॉ' और ‘सिपर' मुहैया कराया जाए. स्वामी को जनवरी 2018 में पुणे के निकट भीमा कोरेगांव में हिंसा के संबंध में पिछले महीने रांची स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया गया था.

आरोपी ने वकील कृतिका अग्रवाल के जरिए शुक्रवार को एनआईए अदालत के समक्ष याचिका दायर कर स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए नवी मुंबई स्थित तलोजा जेल में स्ट्रॉ और सिपर मुहैया कराए जाने का अनुरोध किया. विशेष अदालत के न्यायाधीश डीई कोठालिकर ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) से 26 नवंबर को मामले पर अपना जवाब दायर करने को कहा है.

एनआईए के अधिकारियों ने कहा है कि जांच से पता चला है कि स्वामी भाकपा (माओवादी) की गतिविधियों में शामिल थे. एनआईए ने आरोप लगाया है कि वह समूह की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए ''षडयंत्रकारियों'' सुधीर धावले, रोना विल्सन, सुरेन्द्र गैडलिंग, अरुण फरेरा, वर्नन गोंसाल्वेस, हनी बाबू, शोमा सेन, महेश राउत, वरवरा राव, सुधा भारद्वाज, गौतम नवलखा और आनंद तेलतुंबड़े के संपर्क में रहे हैं.

जांच एजेंसी ने आरोप लगाया कि स्वामी ने एजेंडे को आगे बढ़ाने के लिए एक सहयोगी के जरिये धन भी हासिल किया था. इसके अलावा, वह भाकपा (माओवादी) के एक संगठन प्रताड़ित कैदी एकजुटता समिति (PPSC) के संयोजक भी थे. अधिकारियों ने कहा कि उनके पास से भाकपा (माओवादी) से संबंधित साहित्य और प्रचार सामग्री तथा उसके कार्यक्रमों को आगे बढ़ाने के लिए संचार से संबंधित दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं. एनआईए ने पिछले महीने स्वामी समेत आठ लोगों के खिलाफ मामले में आरोप पत्र दायर किया था.

Posted By : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें