1. home Hindi News
  2. national
  3. ed action on chinese company vivo india rs 62476 crore being sent abroad seized pyu

Vivo ED Raid: चीनी कंपनी Vivo इंडिया पर ED की कार्रवाई, विदेश भेजा जा रहे 62,476 करोड़ रुपये जब्त

वीवो इंडिया ने भारत में कर देने से बचने के लिए अपने राजस्व का बड़ा हिस्सा चीन एवं कुछ अन्य देशों में भेज दिया है. इसे लेकर इडी ने वीवो इंडिया और उससे जुड़ी 23 कंपनियों पर छापा मारा और 62 करोड़ रुपये जब्त किए.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ED raids Vivo
ED raids Vivo
fb

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने चीनी स्मार्टफोन VIVO और उसके जुड़ी 23 कंपनियों पर छापा मारा और 62 करोड़ रुपये जब्त किए हैं. ईडी ने गुरुवार को कहा कि चीनी स्मार्टफोन विनिर्माता वीवो की भारतीय इकाई ने यहां पर कर देनदारी से बचने के लिए अपने कुल कारोबार का लगभग 50 प्रतिशत हिस्सा यानी 62,476 करोड़ रुपये विदेशों में भेज दिए. केंद्रीय जांच एजेंसी ने कहा कि वीवो इंडिया ने भारत में कर देने से बचने के लिए अपने राजस्व का बड़ा हिस्सा चीन एवं कुछ अन्य देशों में भेज दिया है. विदेशों में भेजी गई राशि 62,476 करोड़ रुपये है जो उसके कारोबार का लगभग आधा हिस्सा है.

बैंक खाते से 465 करोड़ रुपये जब्त

ईडी ने कहा कि वीवो मोबाइल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड एवं इसकी 23 संबद्ध कंपनियों के खिलाफ बुधवार को चलाए गए सघन तलाशी अभियान के बाद उनके बैंक खातों में जमा 465 करोड़ रुपये की राशि जब्त की गई है. इसके अलावा 73 लाख रुपये की नकदी और दो किलोग्राम सोने की छड़ें भी जब्त की गई हैं. प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि वीवो के पूर्व निदेशक बिन लाऊ ने भारत में कई कंपनियां बनाने के बाद वर्ष 2018 में देश छोड़ दिया था. अब इन कंपनियों के वित्तीय ब्योरों पर जांच एजेंसी की नजरें हैं.

कर्मचारियों ने ईडी की कार्रवाई में डाला बाधा

प्रवर्तन निदेशालय ने यह आरोप भी लगाया है कि वीवो इंडिया के कर्मचारियों ने उसकी तलाशी अभियान के दौरान सहयोग नहीं किया और भागने एवं डिजिटल उपकरणों को छिपाने की कोशिश भी की. हालांकि एजेंसी की तलाशी टीमें इन डिजिटल सूचनाओं को हासिल करने में सफल रहीं.

चीनी दूतावास ने कार्रवाई पर जताया आक्रोश

छापेमारी के बाद भारत में चीन के दूतावास ने ईडी के प्रति विरोध प्रकट किया है. चीन दूतावास के एक अधिकारी ने कहा कि चीन की कंपनी के प्रति भारतीय जांच एजेंसियों का रवैया दुर्भाग्यपूर्ण है. चीनी कंपनी को विदेश में कारोबार करने के लिए हिदायत दी जाती है, इसके बाद भी इस तरह की कार्रवाई बिजनेस के लिए सही नहीं है. इसपर ईडी ने जवाब देते हुए कहा कि कार्रवाई नियमों के हिसाब से की गई है, और कानून का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है.

(इनपुट- भाषा)

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें