1. home Hindi News
  2. national
  3. domestic flights will start from may 25 this will be the minimum and maximum fare these rules will have to be followed

25 मई से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, दिल्‍ली-मुंबई का किराया साढ़े 3 से 10 हजार रुपये

By Mohan Singh
Updated Date
Pic Source -ANI

नयी दिल्ली : केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने गुरूवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया की वंदे भारत अभियान से मिले अनुभवो से हमें आत्मविश्वास मिला इसके आधार पर ही हमने 25 मई से घरेलू उड़ानों के परिचालन की अनुमति दी है. उन्होंने बताया कि हमने न्यूनतम और अधिकतम किराया निर्धारित किया है.

उन्होंने बताया कि सोमवार 25 मई से, हम घरेलू नागरिक उड्डयन के संचालन को फिर से शुरू करेंगे.हमने एक न्यूनतम और अधिकतम किराया निर्धारित किया है. दिल्ली, मुंबई के मामले में, 90-120 मिनट के बीच की यात्रा के लिए न्यूनतम किराया 3500 रुपये होगा, अधिकतम किराया 10,000 रुपये होगा यह 3 महीने के लिए ऑपरेटिव है.

मंत्री ने बताया कि 40% सीटें बैंड के मध्य बिंदु से कम किराए पर बेची जानी हैं. उदाहरण के लिए, 3500 रुपये और 10000 रुपये का मिडपॉइंट 6700 रुपये है. इसलिए 40% सीटों को 6700 रुपये से कम कीमत पर बेचा जाना है. इस तरह हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि किराए नियंत्रण से बाहर न हों.

एक यात्री को सुरक्षात्मक फेस मास्क पहनना होगा और हैंड सैनिटाइजर बोतल लाना जरूरी होगा. एयरलाइंस बोर्ड पर भोजन नहीं देगी. पानी की बोतलें गैलरी क्षेत्र या सीटों पर उपलब्ध कराई जाएंगी. इसके साथ में मोबाइल में आरोग्य सेतु एप होना अनिवार्य होगा. आरोग्य एप पर लाल रंग के स्टेटस वाले यात्री को यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी.यात्री को यात्रा से दो घंटे पहले पहुंचना अनिवार्य होगा.

उन्होंने बताया कि उड़ान मार्गों को 7 भागो में में वर्गीकृत किया गया है 1) 40 मिनट, 2) 40 - 60 मिनट, 3) 60 - 90 मिनट, 4) 90 - 120 मिनट, 5) 120 - 150 मिनट, 6) 150 - 180 मिनट, 7) 180 - 210 मिनट. देश के भीतर सभी मार्ग इन 7 के भीतर आते हैं.

पुरी ने बताया की हमने अपने 20,000 से अधिक नागरिकों को विभिन्न स्थलों से वापस लाए है.हमारे पास अपने नागरिकों को ले जाने के लिए एक ही समय में आउटगोइंग एयरक्राफ्ट का उपयोग किया जाता है, जो सामान्य रूप से विदेश में रहने वाले हैं और नौकरियों और अन्य व्यावसायिक प्रतिबद्धताओं के कारण यात्रा करने की आवश्यकता है.वंदे भारत के दूसरे चरण में हम उड़ानों की संख्या दुगनी करेंगे.हम लोगों को वापस लाने की संख्या को और बढ़ाने की योजना बना रहे हैं.घरेलू उड़ानों के अनुभव के आधार पर हम अतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन भी करेंगे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें