1. home Home
  2. national
  3. cyclonic storm gulab to hit sea coast between odisha andhra pradesh on 26 september internet power services may be disrupted mtj

Weather Alert: आज शाम ओड़िशा-आंध्रप्रदेश में तबाही मचायेगा चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’, 24 ट्रेनें रद्द

आंध्रप्रदेश, ओड़िशा के अलावा पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड समेत कई राज्यों में भी बारिश होगी. गुलाब के समुद्र तट से टकराने से पहले ही हैदराबाद में भारी बारिश शुरू हो गयी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’
बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’
Twitter

26 September|Weather Report|: बंगाल की खाड़ी में बना वर्ष 2021 का तीसरा शक्तिशाली चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ (Cyclonic Storm Gulab) ओड़िशा और आंध्रप्रदेश की ओर बढ़ने लगा है. रविवार शाम को इस चक्रवाती तूफान के ओड़िशा और आंध्रप्रदेश के बीच कहीं समुद्र तट से टकराने का अनुमान भारत मौसम विभाग ने जारी किया है. मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने कहा है कि ओड़िशा और आंध्रप्रदेश के कई इलाकों में भारी से भारी बारिश का अलर्ट (Weather Alert) जारी किया गया है. तेज हवाएं चलेंगी. इसकी वजह से इंटरनेट सेवाएं और बिजली व्यवस्था ठप हो सकती है. इस बीच, ओड़िशा से जाने और ओड़िशा को आने वाली कम से कम 24 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है.

आंध्रप्रदेश (Andhra Pradesh) और ओड़िशा (Odisha) के अलावा पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड समेत कई अन्य राज्यों में भी बारिश होने का अनुमान है. गुलाब चक्रवात (Gulab Cyclone) के समुद्र तट से टकराने से पहले ही हैदराबाद में शनिवार की शाम से भारी बारिश (Heavy Rain Lashes Hyderabad) शुरू हो गयी. मौसम विभाग (Weather Department) की ओर से जारी येलो अलर्ट (Yellow Alert) के बाद ओड़िशा और आंध्रप्रदेश की राज्य सरकारों के साथ-साथ एनडीआरएफ और एनसीएमसी ने बैठकें कीं और गुलाब तूफान के बाद होने वाले असर से निबटने की तैयारियों की समीक्षा की.

48 घंटे में शक्तिशाली चक्रवात बन गया ‘गुलाब’

मौसम विभाग (IMD) ने कहा है कि रविवार को 24 घंटे के दौरान ओड़िशा, आंध्रप्रदेश के उत्तरी तटवर्ती इलाकों में 24 घंटे के दौरान क्रमश: 115.6 मिलीमीटर और 204.4 मिलीमीटर वर्षा हो सकती है. तेलंगाना, उत्तरी ओड़िशा के भीतरी इलाकों में और छत्तीसगढ़ में भी भारी बारिश (Heavy Rain) हो सकती है.

मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने बताया कि चक्रवाती तूफान ओड़िशा और आंध्रप्रदेश की ओर बढ़ रहा है. बहुत कम समय में निम्न दबाव के क्षेत्र ने शक्तिशाली चक्रवात का रूप ले लिया. यानी बंगाल की खाड़ी में 34 किलोमीटर प्रति घंटे से कम की रफ्तार से चलने वाली हवा महज 48 घंटे से भी कम समय के भीतर 51 से 61 किलोमीटर की रफ्तार पकड़ ली.

2021 का तीसरा चक्रवात है ‘गुलाब’

वर्ष 2021 में गुलाब तीसरा चक्रवाती तूफान (Cyclone Gulab) है, जो बंगाल की खाड़ी से उठा है. इसके पहले ताउते (Taukate) और यश (Yaash) तूफान ने काफी तबाही मचायी थी. मौसम विभाग के रिकॉर्ड पर गौर करें, तो पायेंगे कि चार दशक (1990 से 2021 के बीच) में सितंबर के महीने में सिर्फ 14 चक्रवात बने हैं, जिनमें से 3 चक्रवाती तूफान में तब्दील हुआ. ये तीनों चक्रवाती तूफान वर्ष 2011 से 2021 के बीच आये. गुलाब चौथा चक्रवाती तूफान होगा. ओड़िशा के गोपालपुर और आंध्रप्रदेश के कलिंगपट्टनम के बीच कहीं गुलाब समुद्र तट से टकरायेगा. ताउते और यश तूफान मई में आया था.

1991 से 2021 के बीच सितंबर में आये चक्रवाती तूफानों पर एक नजर

वर्ष कितने चक्रवाती तूफान आये

1991 01

1995 02

1997 01

2004 02

2005 02

2007 01

2008 01

2009 01

2011 01

2018 02

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें