1. home Home
  2. national
  3. cyclone alert powerful gulab cyclone in bay of bengal weather department issues yellow alert mtj

Cyclone Alert: बंगाल की खाड़ी में उठा शक्तिशाली चक्रवात ‘गुलाब’, मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट

Cyclone Alert|Weather Department|मौसम विभाग ने उत्तरी आंध्रप्रदेश और उससे सटे दक्षिणी ओड़िशा के तटवर्ती क्षेत्रों के लिए अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग ने कहा है कि डिप्रेशन का जो क्षेत्र बना है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बंगाल की खाड़ी में बना शक्तिशाली तूफान, आंध्रप्रदेश और ओड़िशा में अलर्ट
बंगाल की खाड़ी में बना शक्तिशाली तूफान, आंध्रप्रदेश और ओड़िशा में अलर्ट
File Photo

कोलकाता (मधु सिंह): बंगाल की खाड़ी में एक शक्तिशाली चक्रवात तैयार हो रहा है. गुलाब चक्रवात (Gulab Cyclone) के आंध्रप्रदेश और ओड़िशा में समुद्र तट से टकराने का अनुमान मौसम विभाग ने व्यक्त किया है. विभाग ने कहा है कि गुलाब चक्रवात (Cyclone Gulab) का सबसे ज्यादा असर ओड़िशा (Odisha) के गोपालपुर से आंध्रप्रदेश (Andhra Pradesh) के विशाखापत्तनम के बीच होगा. बताया जा रहा है कि इस शक्तिशाली चक्रवात का लैंडफॉल कलिंगपटनम में हो सकता है. यह आंध्रप्रदेश में आता है.

मौसम विभाग (Weather Department) ने उत्तरी आंध्रप्रदेश और उससे सटे दक्षिणी ओड़िशा के तटवर्ती क्षेत्रों के लिए अलर्ट जारी किया है. ओड़िशा में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) की 13 और आंध्रप्रदेश में 5 टीमें तैनात कर दी गयी हैं. मौसम विभाग ने कहा है कि डिप्रेशन का जो क्षेत्र बना है, इस समय गोपालपुर के पूर्व-दक्षिण-पूर्व में 470 किलोमीटर और कलिंगपटनम के पूर्व-उत्तर-पूर्वम में करीब 540 किलोमीटर दूर स्थित है. शनिवार की शाम को यह शक्तिशाली तूफान में तब्दील हो जायेगा और उसके बाद ओड़िशा और आंध्रप्रदेश के बीच समुद्र तट से टकरायेगा.

भारतीय मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने कम दबाव के क्षेत्र से पश्चिम बंगाल के कई इलाकों में भारी बारिश हो सकती है. बिहार (Bihar) और झारखंड (Jharkhand) पर भी इसका असर देखा जा सकता है. चक्रवाती तूफान गुलाब का असर रविवार तक दिखेगा. इसके बाद सोमवार से गुलाब चक्रवात का असर कम होता चला जायेगा. अभी, चक्रवात पर नजर रखी जा रही है.

मौसम विभाग ने कहा है कि गुलाब चक्रवात 26 सितंबर तक कलिंगपट्टनम को पार कर सकता है. उत्तर आंध्रप्रदेश और दक्षिण ओड़िशा के तटीय क्षेत्रों के लिए येलो अलर्ट (Yellow Alert) जारी कर दिया है. अगर पश्चिम बंगाल (West Bengal) की बात करें, तो गुलाब चक्रवात के कारण कई इलाकों में भारी बारिश हो सकती है. जिन इलाकों में बारिश का अनुमान है, उनमें कोलकाता, हावड़ा, दक्षिण 24 परगना, उत्तर 24 परगना एवं पूर्वी मेदिनीपुर शामिल हैं.

गुलाब चक्रवात (Gulab Cyclone) के पहले यास साइक्लोन के कारण भी पूर्वी भारत के कई राज्यों में जोरदार बारिश और आंधी का नजारा देखा गया था. यास चक्रवात की तबाही को देखते हुए गुलाब साइक्लोन से निबटने की तैयारी की गयी है. प्रशासन को भी अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है. माना जा रहा है कि पश्चिम बंगाल, ओड़िशा, आंध्रप्रदेश समेत बिहार और झारखंड पर भी गुलाब चक्रवात का असर दिख सकता है.

यह भी बताया जा रहा है कि बंगाल की खाड़ी में एक और डिप्रेशन तैयार हो सकता है, जो बंगाल एवं बांग्लादेश से सटे इलाकों को प्रभावित करेगा. इसके चलते मंगलवार को बारिश की तीव्रता बढ़ेगी. कोलकाता सहित दक्षिण बंगाल के कई जिलों में भारी (Heavy Rain) एवं अति भारी बारिश (Very Heavy Rain) हो सकती है. पश्चिम बंगाल में सबसे ज्यादा वर्षा समुद्र तट से सटे जिले दक्षिण 24 परगना एवं पूर्वी मेदिनीपुर में होने का अनुमान है.

क्या है गुलाब चक्रवात

बंगाल की खाड़ी में एक तूफान तैयार हो रहा है. इस तूफान का नाम गुलाब है. गुलाब का नामकरण पाकिस्तान ने किया है. पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी में उठा ये तूफान उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ रहा है. फिलहाल यह तूफान डिप्रेशन के रूप में है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें