30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Cyclone Remal: मूलसाधार बारिश, 110 से 120 KM/H की रफ्तार से हवा, इन राज्यों में दिखेगा चक्रवाती तूफान ‘रेमल’ का असर

Cyclone Remal: भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा है कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना चक्रवात रेमल रविवार आधी रात को पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के समुद्र तटों से टकरा सकता है. बंगाल की खाड़ी में बन रहा चक्रवाती तूफान 110 से 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दस्तक दे सकता है.

Cyclone Remal: मध्य-पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर बन रहा दबाव का क्षेत्र अब गहरे दबाव में बदल चुका है. अगले कुछ घंटों में यह एक क्षेत्र चक्रवात में तब्दील हो जाएगा. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग का अनुमान है कि चक्रवात बनने के बाद यह उत्तर की ओर तेजी से बढ़ेगा. रविवार यानी 26 मई को यह एक गंभीर चक्रवात में बदल जाएगा. आईएमडी का अनुमान है कि इसका असर पश्चिम बंगाल से लेकर बिहार तक हो सकता है. मौसम विभाग ने कहा कि 26 मई की रात को पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के समुद्र तटों पर यह दस्तक दे सकता है. बंगाल की खाड़ी में बन रहा चक्रवाती तूफान 110 से 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दस्तक दे सकता है. यह 135 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार पकड़ सकता है.

कई उड़ानें निलंबित
मध्य-पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर मंडरा रहे चक्रवाती तूफान रेमल को देखते हुए कोलकाता सहित पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्र पर 26 मई को 12 बजे से 27 मई को 9 बजे तक तक उड़ान संचालन को निलंबित करने का निर्णय लिया गया है. कोलकाता हवाई अड्डा प्राधिकरण ने इसकी जानकारी दी. वहीं मौसम विभाग ने  कोलकाता में भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना जताई है.

परिचालन बंद रहने की घोषणा
चक्रवाती तूफान के की भयावहता को देखते हुए कोलकाता श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंदरगाह पर रविवार शाम से 12 घंटे के लिए सभी कार्गो और कंटेनर हैंडलिंग को भी निलंबित कर दिया गया है. अधिकारियों ने कहा कि परिचालन रविवार शाम छह बजे से सोमवार सुबह छह बजे तक निलंबित रहेगा. बंदरगाह के चेयरपर्सन रथेंद्र रमन ने संभावित चक्रवात के प्रभाव से निपटने की तैयारियों की निगरानी के लिए शनिवार को एक बैठक की. बंदरगाह अधिकारियों के साथ बैठक में उन्होंने सक्रिय उपायों और अंतर-विभागीय सहयोग पर जोर दिया. अधिकारियों ने कहा कि बंदरगाह क्षेत्र में इस दौरान रेलवे परिचालन भी निलंबित रहेगा. मौसम विभाग ने कहा कि चक्रवात के रविवार रात को पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के आस पास के तटों पर पहुंचने का अनुमान है. इस दौरान 110-120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है, जो 135 किमी प्रति घंटे तक पहुंच सकती है.

बंगाल की खाड़ी में बन रहा है चक्रवाती तूफान
मौसम विभाग ने कहा कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरा दबाव शनिवार शाम तक चक्रवाती तूफान में बदल सकता है और 26 मई की रात को पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के समुद्र तटों पर दस्तक दे सकता है. बंगाल की खाड़ी में बन रहा चक्रवाती तूफान 110 से 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दस्तक दे सकता है. यह 135 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार पकड़ सकता है. मौसम विभाग ने 26 से 27 मई को पश्चिम बंगाल और उत्तरी ओडिशा के तटीय जिलों में अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में 27 से 28 मई को अत्यधिक भारी बारिश हो सकती है. तूफान के दस्तक देने के समय समुद्र में 1.5 मीटर ऊंची लहरें उठने की आशंका है जिससे तटीय पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के निचले इलाके डूब सकते हैं. भाषा इनपुट के साथ

Also Read: Weather Forecast: 45..46…..50 डिग्री पार… आग उगल रहा आसमान, बारिश की आस में आसमान निहार रही आंखें

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें