1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus vaccine for get corona vaccine you must first register on the co win app know the complete process corona ka teeka aml

Corona Vaccine: कोरोना वैक्सीन के लिए पहले करना होगा Co-WIN App पर रजिस्ट्रेशन, जानें पूरा प्रोसेस

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोरोना वैक्सीन के लिए पहले करना होगा Co-WIN App पर रजिस्ट्रेशन
कोरोना वैक्सीन के लिए पहले करना होगा Co-WIN App पर रजिस्ट्रेशन
PTI

नयी दिल्‍ली : देश को कोरोनावायरस (Coronavirus) से मुक्त करने के लिए कोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) पर तेजी से काम चल रहा है. इसी क्रम में आज देश भर में टीकाकरण के लिए ड्राइ रन (Dry Run) का आयोजन किया गया. देश के सभी राज्यों में टीकाकरण (Vaccination) के लिए तैयारियां तेज कर दी गयी है. इस बीच केंद्र सरकार ने कोरोना वैक्सीन के रजिस्ट्रेशन के लिए Co-WIN ऐप डेवलप किया है. कोरोना वैक्सीन उसी को दी जायेगी, जिसने पहले से ही को-विन ऐप पर रजिस्ट्रेशन कराया होगा.

बता दें कि कोरोनावायरस से लड़ाई में शामिल हेल्थ वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स को सबसे पहले कोरोना की वैक्सीन लगायी जायेगी. सरकार की ओर से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने आज ही कहा है कि करीब एक करोड़ हेल्थ वर्कर्स और दो करोड़ फ्रंट लाइन वर्कर्स को फ्री में कोरोना का टीका लगाया जायेगा. उसके बाद 27 करोड़ और लोगों को वैक्सीन लगाया जायेगा, जिसकी सूची जुलाई से पहले तैयार कर ली जायेगी.

ऐसे करना होगा को-विन ऐप पर रजिस्ट्रेशन

देश के वैसे नागरिक जो हेल्थ वर्कर्स नहीं हैं उन्हें कोरोना वैक्सीन के लिए सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर या आईओएस ऐप स्टोर से CoWIN ऐप डाउनलोड करना होगा. ऐप को डाउनलोड करने के कोई भी व्यक्ति पंजीकरण के पांच मॉड्यूल के माध्यम से कोरोना वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकता है. अभी को-विन ऐप लॉन्च नहीं किया गया है. लॉन्च होते ही इस एप को डाउनलोड किया जा सकता है.

को-विन ऐप के माध्यम से टीकाकरण की प्रक्रिया और वैसे लोगों की निगरानी भी की जायेगी, जिन्होंने कोरोना वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है. को-विन ऐप में 5 मॉड्यूल हैं. पहला प्रशासनिक मॉड्यूल, दूसरा रजिस्ट्रेशन मॉड्यूल, तीसरा वैक्सीनेशन मॉड्यूल, चौथा लाभान्वित स्वीकृति मॉड्यूल और पांचवां रिपोर्ट मॉड्यूल होगा. देश में कोरोना वैक्सीन के वितरण से लेकर उसके प्रभाव तक की निगरानी इस ऐप के माध्यम से की जायेगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कोरोना वैक्सीन के सुरक्षित होने और इसकी कारगरता के बारे में अफवाहों से लोगों को बचने की सलाह दी है. उन्होंने आज ही कहा है कि इसे मंजूरी देने से पहले किसी भी प्रोटोकॉल के साथ कोई समझौता नहीं किया जायेगा. सबसे पहले वैक्सीन हेल्थ और फ्रंट लाइन वर्कर्स को लगाया जायेगा. उसके बाद 50 वर्ष से अधिक आयु के लोग और पहले से किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित कम उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाया जायेगा.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें