1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus unlock 40 indian railways news irctc indian railways 100 special trains will run in this fesrtive season all you need to know india news in hindi upl

IRCTC/Indian Railways: अनलॉक 4.0 में रेलवे कर सकता है 100 और ट्रेनों का ऐलान, इस बात का इंतजार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जल्द ही रेलवे मंत्रालय की ओर से  100 और ट्रेनें चलाने की घोषणा हो सकती है.
जल्द ही रेलवे मंत्रालय की ओर से 100 और ट्रेनें चलाने की घोषणा हो सकती है.
File

IRCTC/Indian Railways, Indian Railways news, Unlock 4.0: कोरोना संकट के बीच देश में आज यानी 1 सितंबर से अनलॉक 4.0 की शुरुआत हो गई है. इसमें पहले से अधिक रियायतें दी गईं हैं. सात सितंबर से मेट्रो सेवाएं बहाल हो जाएंगी, वहीं खबर है कि जल्द ही रेलवे मंत्रालय की ओर से 100 और ट्रेनें चलाने की घोषणा हो सकती है.

फिलहाल देश में 230 एक्‍सप्रेस ट्रेनें (30 राजधानी) ही चल रहीं हैं. पैसेंजर ट्रेनें मार्च से अबतक बंद है. लेकिन आगामी त्योहारी मौसम को देखते हुए रेलवे कुछ और ट्रेंने चलाने की तैयारी में है. टीओई की खबर के मुताबिक, जिन 100 ट्रेनों को चलाने की तैयारी है, उन्‍हें भी 'स्‍पेशल ट्रेन ' के नाम से जाना जाएगा. इनमें से ज्यादातर ट्रेनें अंतरराज्यीय होंगी.

सूत्रों के अनुसार, रेल मंत्रालय को गृह मंत्रालय से इस बाबत अनुमति का इंतजार है. सूत्रों ने यह भी कहा कि अगले दो महीनों या अगले वर्ष अप्रैल में जब रेलवे जीरो-बेस्‍ड टाइम टेबल जारी करेगा तो इन ट्रेनों के समय में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा. बता दें कि रेल मंत्रालय पहले से ही चरणबद्ध ढंग से रेल सेवाएं शुरू करने की बात कर चुका है.

यात्रियों की मांग और कोरोना संक्रमण के हालात को देखते हुए ट्रेनें चलाई जानी थीं, मगर बार-बार प्‍लान कैंसिल कर दिया गया. अब जब केंद्र सरकार ने अनलॉक 4 के तहत सितंबर के दूसरे हफ्ते से मेट्रो रेल सेवाएं शुरू करने की अनुमति दे दी है तो बड़े पैमाने पर लोग एक जगह से दूसरी जगह जाएगी.

त्‍योहारों का मौसम भी करीब है, ऐसे में ट्रेनों की मांग बढ़ सकती है. बीते पांच माह से कई लोग यात्रा को रद्द कर रहे हैं लेकिन अब वो नौकरी और दूसरे अन्य कारणों से अपने राज्य से दूसरे राज्य में जाना चाहते हैं. गौरतलब है कि लॉकडाउन की घोषणा होते ही ट्रेनों को रद्द कर दिया गया. आरटीआई से मिली जानकारी के मुताबिक, भारतीय रेलवे ने मार्च से 1.78 करोड़ से ज्यादा टिकट रद्द किए हैं.

इसी दौरान 2,727 करोड़ रुपये की रकम वापस की गई. रेलवे ने 25 मार्च से ही अपनी यात्री ट्रेन सेवाएं स्थगित कर दी थी. इस तरह, पहली बार रेलवे को टिकट बुकिंग से जितनी आमदनी हुई उससे ज्यादा रकम वापस की गई. बता दें कि गत वर्ष एक अप्रैल से 11 अगस्त के बीच रेलवे ने 3,660.08 करोड़ रुपये वापस किए थे और समान अवधि में 17,309.1 करोड़ रुपये का राजस्व आया.

अनलॉक में राहत मिलती गई, यात्रा करने वालों की संख्या भी बढ़ती गई

लॉकडाउन के बाद जैसे-जैसे अनलॉक में राहत मिलती गई, ट्रेन से यात्रा करने वालों की संख्या भी बढ़ती गई. रेलवे ने संक्रमण को देखते हुए केवल कंफर्म टिकट वालों को ही यात्रा की अनुमति दी है. ऐसे में अब ट्रेनों में वेटिंग की संख्या ज्यादा हो रही है. रेलवे ने 30 सितंबर तक केवल स्पेशल ट्रेनों के संचालन की घोषणा कर रखी है.

ऐसे में यात्रियों को सीमित ट्रेनों में ही यात्रा करनी पड़ रही है. ऐसे में हर दिन टिकट कंफर्म न होने वाले यात्रियों को अपनी यात्रा निरस्त करनी पड़ रही है. इसी कारण आगामी त्योहारों को देखते हुए रेलवे कुछ ट्रेनें चलाने का ऐलान कर सकती है.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें