1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus lockdown maharashtra govt says no to resuming flight operations west bengal chhatisgarh still confuse on domestic flight service

25 मई से घरेलू उड़ान सेवा शुरू, महाराष्ट्र सहित इन राज्यों के यात्रियों को करना पड़ेगा इंतजार!

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
घरेलू उड़ानों पर महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ ने फंसा रखा है पेच
घरेलू उड़ानों पर महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ ने फंसा रखा है पेच
File

देश में बढ़ते कोरोना मामले के बीच केंद्र सरकार ने भले ही सोमवार से (25 मई) घरेलू उड़ानों की बहाली की योजना बना ली हो लेकिन महाराष्ट्र एक दो और अन्य राज्यों की सरकार अभी तक इस पर फैसला नहीं ले पायी है. महाराष्ट्र ने तो केंद्र सरकार को कारण बताते हुए विमान सेवा को लेकर अपनी असमर्थता जता दी है.

उद्धव सरकार का कहना है कि मुंबई और पुणे रेड जोन में और इन शहरों में ट्रैफिक और लोगों की आवाजाही पर पूरी तरह से पाबंदी है. ऐसे में अभी विमान सेवा नहीं शुरू कर सकते. महाराष्ट्र सरकार ने अपने पुराने आदेश में अभी तक संशोधन नहीं किया है. इंडिया टुडे के मुताबिक, महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र को ये भी बताया है कि यह भी साफ नहीं है कि मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड(एमआईएएल) ने हवाई अड्डे पर काम फिर से शुरू करने, कर्मचारियों की उपलब्धता, उनकी स्वास्थ्य स्थिति और उनकी फिटनेस के स्तर की जांच करने की आवश्यकता पर काम किया है या नहीं.

महाराष्ट्र सरकार ने अपने जवाब में ये भी कहा कि एमआईएएल ने ये भी साफ नहीं किया उसके स्टाफ कंटेनमेंट जोन से आएंगे या नहीं. रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्र को बताया गया है कि हजारों की संख्या में लोग हर रोज यात्रा करेंगे. ऐसे में इनके लिए एयरपोर्ट और एयरलाइन में ज्यादा स्टाफ की जरूरत होगी जो बड़ी चुनौती होगी. ये स्टाफ एयरपोर्ट कैसे आएंगे और कैसे जाएंगे क्योंकि पब्लिक ट्रांसपोर्ट और टैक्सियों पर तो पाबंदी लगी है. यात्रियों को भी असुविधा होगी. लेकिन राज्य ने हवाई अड्डे के संचालन की सुचारू शुरुआत के लिए संभावित सहायता का वादा जरूर किया है.

छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल में भी विमान सेवा अधर में

केवल महाराष्ट्र ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल में भी 25 मई से विमान सेवा शुरू होगी या नहीं ये अभी साफ न हो पाया है. छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार ने कोरोना के खतरे को देखते हुए घरेलू उड़ानों को लेकर केंद्र से स्पष्ट जानकारी मांगी है. मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी को चिट्ठी लिखकर कहा है कि घरेलू उड़ान शुरू करने से संक्रमण फैलने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा कि मीडिया के माध्यम से पता चला है कि 25 मई से घरेलू उड़ान प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया है लेकिन नागर विमानन मंत्रालय ने यात्रियों के आवागमन के लिए अलग से कोई एसओपी (मानक संचालन प्रक्रिया) भी जारी नहीं की है.

सूत्रों के मुताबिक, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि वह केंद्र से कोलकाता और बागडोगरा हवाईअड्डों पर कुछ दिनों के लिए घरेलू उड़ान सेवाएं रोकने के लिए आग्रह करेंगी. ये उड़ान सेवाएं 25 मई से शुरू होने वाली हैं लेकिन राज्य इस समय अम्फान चक्रवात से होने वाली क्षति के राहत कार्य में व्यस्त हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने मुख्य सचिव से नागरिक उड्डयन मंत्रालय को 30 मई तक कोलकाता हवाई अड्डे पर और 28 मई तक बागडोगरा हवाई अड्डे पर सेवाओं को स्थगित करने का अनुरोध करने के लिए कहा है. गौरतलब है कि अम्फान चक्रवात के कारण मुख्यमंत्री के आग्रह के बाद स्पेशल ट्रेन सेवाओं को रोक दिया गया था.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें