1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus infected children before third wave infection increases in karnataka rahul gandhi tweeted rjh

तीसरी लहर से पहले ही कोरोना वायरस ने बच्चों पर किया अटैक, कर्नाटक में संक्रमण बढ़ा, राहुल गांधी ने ट्‌वीट कर कही ये बात...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Coronavirus infected children
Coronavirus infected children
PTI

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बच्चों में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए ट्‌वीट कर बच्चों को बचाने की अपील पीएम मोदी से की है. उन्होंने ट्‌वीट किया है कि आने वाले समय में बच्चों पर खतरा मंडराने वाला है. इसलिए सरकार को चाहिए कि वो बच्चों को सुरक्षित करे. अस्पतालों में उनके इलाज की बेहतर व्यवस्था हो. बच्चों के लिए वैक्सीन का इंतजाम भी जरूरी है. पूरे मोदी सिस्टम को नींद से जगाना होगा.

गौरतलब है कि एक्सपर्ट यह सलाह दे रहे हैं कि कोरोना की तीसरी लहर देश में सितंबर तक आयेगी जिसका असर सबसे ज्यादा छोटे बच्चों पर होगा. नीति आयोग ने भी प्रेस काॅन्फ्रेंस में यह कहा है कि तीसरी लहर को रोक पाना बहुत कठिन है.

दूसरी लहर में ही कोरोना ने किया बच्चों पर अटैक

अभी देश में कोरोना की दूसरी लहर चल रही है जिसने भयानक रूप ले लिया है और मौत का आंकड़ा प्रतिदिन के हिसाब से 4 हजार के आसपास चल रहा है. इसी बीच देश के कई हिस्सों से ऐसी खबर आ रही है जिसमें यह पता चल रहा है कि बच्चे बड़ी संख्या में कोरोना के शिकार हो रहे हैं. कल ऐसी खबर आयी थी कि उत्तराखंड में एक हजार बच्चे कोरोना संक्रमित हो गये हैं.

वहीं आज यह खबर आयी है कि कि कर्नाटक जहां संक्रमण का आंकड़ा काफी बढ़ा हुआ है वहां बड़ी संख्या में बच्चों में संक्रमण फैल रहा है. सरकारी आंकड़ों के अनुसार एक से 16 मई के बीच देश में 19 हजार से ज्यादा बच्चे कोरोना संक्रमण के शिकार हुए हैं.

बच्चों में दिख रहे ये लक्षण

डाॅक्टरों ने बताया कि बच्चों में कोरोना के अजीब से लक्षण देखे जा रहे हैं जो खतरनाक हैं. बच्चों में बुखार, सर्दी-खांसी, सांस लेने में दिक्कत के अलावा स्किन इंफेक्शन और थकान जैसे लक्षण सामने आ रहे हैं. साथ ही उनमें डायरिया जैेसे लक्षण भी देखे जा रहे हैं.

दिल्ली में कोरोना से दो बच्चों की मौत

दिल्ली में कोरोना से दो बच्चों की मौत हो गयी है. दोनों बच्चों की उम्र पांच साल और नौ साल थी. दोनों ही बच्चों में आॅक्सीजन लेवल काफी कम हो गया और उनके फेफड़े में संक्रमण काफी बढ़ गया था जिस वजह से उनकी मौत हो गयी. तीसरी लहर से पहले ही कोरोना वायरस ने बच्चों पर किया अटैक तथा Latest News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें।

Posted By : Rajneesh Anand

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें