1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus blast in india may increase the lockdown lockdown 5 so what format what will be exempted where will strictly

क्यों ट्रेंड कर रहा Lockdown 5.0? जानिए गृह मंत्रालय ने वायरल खबरों पर क्या दी सफाई

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
pti photo

जिस तरह से कोरोना के मामले हर दिन एक नए रिकॉर्ड स्तर पर जा रहे हैं, इसको देखते हुए अभी से लॉकडाउन 5 को लेकर कयास लगाए जाने लगे हैं. हर कोई यही सवाल पूछ रहा है कि क्या लॉकडाउन 4 के बाद 5 भी आएगा? जानकार भी कह रहे हैं कि अभी जून जुलाई में कोरोना के मामले और बढ़ेंगे. वहीं गृह मंत्रालय की ओर से ये स्पष्टीकरण जारी किया गया है कि ऐसी सभी खबरें गलत हैं. वहीं दूसरी ओर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बीते 24 घंटे का आंकड़ा दिया है, उसके अनुसार देश में COVID-19 के 6,387 नये मामले सामने आये और संक्रमण से 170 लोगों की मौत हुई. इसके साथ देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 1,51,767 पर पहुंच गए तथा संक्रमण से मरने वाले लोगों की संख्या 4,337 हो गई. 83,004 लोगों का उपचार चल रहा है जबकि 64,425 लोग स्वस्थ हो गए हैं और एक मरीज विदेश चला गया है.

देश में लगातार बढ़ते कोरोना केस को देखते हुए ऐसी संभावना जतायी जा रही है कि लॉकडाउन को आगे बढ़ाया जा सकता है. फिलहाल 31 मई तक लॉकडाउन 4.0 लागू है. वैसे लोगों को पीएम मोदी के 31 मई के मन की बात का भी इंतजार है. सभी जानना चाहते हैं कि देश में व्याप्त कोरोना संकट के दो महीने से ज्यादा गुजर जाने के बाद अब प्रधानमंत्री देश को क्या रास्ता दिखाएंगे ताकि कोरोना के साथ देश आर्थिक मंदी के संकट से भी निकल सके.

बहरहाल अगर लॉकडाउन 5.0 लाया जाता है तो उसका स्‍वरूप कैसा होगा इसकी चर्चा अब तेजी से होने लगी है. कोरोना वायरस के कारण लगाये गये लॉकडाउन के कारण देश की आर्थिक स्थिति बेहद खराब हो गयी और उसको पटरी में लाने के लिए चौथे चरण में कई मामलों में छूट दी गयी. अब ऐसी संभावना है कि लॉकडाउन 5.0 लगाया गया तो देश में और भी छूट दिये जाएंगे. हालांकि जो अधिक प्रभावित शहर हैं, वहां छूट की संभावना कम ही है.

हालांकि गृह मंत्रालय ने ट्वीट कर साफ कर दिया है कि लॉकडाउन 5.0 को लेकर अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है. मीडिया में चल रही खबरों को लेकर गृह मंत्रालय ने कहा, ऐसी खबर चलाना सही नहीं है. ऐसी किसी भी खबर की पुष्टि गृह मंत्रालय नहीं करता है. ऐसा करना गैरजिम्‍मेदाराना है.

लॉकडाउन 5.0 में मिलने वाली छूट का खाका अभी से तैयार किया जा रहा है. मीडिया में जो खबरें चल रही हैं उसके अनुसार देश में कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित शहरों (मुंबई, दिल्ली, बेंगलुरु, पुणे, ठाणे, इंदौर, चेन्नई, अहमदाबाद, जयपुर, सूरत और कोलकाता) में छूट मिलने की संभावना कम ही है. ऐसा इसलिए क्‍योंकि यहां कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और देश के कुल संक्रमितों में लगभग 70 प्रतिशत केस इन्‍हीं शहरों से है.

खबर है लॉकडाउन 5.0 अगर लगाया गया तो देशभर में बंद पड़े सभी धार्मिक स्‍थलों को फिर से खोलने के आदेश दिये जा सकते हैं, हालांकि छूट में भी कुछ पाबंदियां रहेंगी. जिसमें सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन करना और मास्‍क पहनना अनिवार्य होगा. इसके अलावा एक शहर से दूसरे शहरों में आने-जाने के लिए बस सेवाओं और शहर के अंदर ऑटो सेवाओं को भी बहाल किये जाने की संभावना जतायी जा रही है. क्‍योंकि इस क्षेत्रों से जुड़े लोगों की स्थिति लॉकडाउन के कारण बहुत खराब हो चुकी है.

खबर ये भी चल रही है कि लॉकडाउन 5.0 लगाया गया तो उसमें सैलून और जिम को खोलने की इजाजत मिल सकती है. हालांकि कंटेनमेंट जोन को छोड़कर कई राज्‍यों ने तो लॉकडाउन 4.0 में ही इस सेवाओं को फिर से आरंभ कर दिया है. इसके अलावा अगले चरण में भी स्कूल, कॉलेज-यूनिवर्सिटी को खोलने की इजाजत नहीं दी जा सकती है. शॉपिंग मॉल और मल्टीप्लैक्स भी बंद रह सकते हैं.

कनार्टक में मंदिरों के साथ एक जून से खुल सकते हैं मस्जिद और गिरजाघर

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कहा कि एक जून से मंदिरों के साथ मस्जिद और गिरजाघर भी श्रद्धालुओं के लिए खोले जा सकते हैं और सरकार को इस संबंध में केन्द्र सरकार से अनुमति मिलने का इंतजार है. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में होटलों को दोबारा खोले जाने के संबंध में भी प्रधानमंत्री को पत्र लिखा गया है. उन्होंने कहा, एक जून से मंदिर खोल दिए जाएंगे. होटलों और अन्य स्थानों को खोलने के संबंध में हमें दिल्ली में प्रधानमंत्री से अनुमति लेनी होगी. इस संबंध में मैंने पत्र लिखा है, उम्मीद है कि हमें अनुमति मिल जाएगी.

पश्चिम बंगाल सरकार ने अधिक कार्यालय खुलने के बाद बुधवार से बस सेवाएं बढ़ाईं

पश्चिम बंगाल परिवहन निगम (डब्ल्यूबीटीसी) ने लॉकडाउन के चौथे चरण में अधिक सरकारी एवं निजी कार्यालयों के खुलने के मद्देनजर बुधवार से बस सेवाएं बढ़ा दी हैं. कोरोना वायरस से निपटने के लिए लगाए गए लॉकडाउन का चौथा चरण 18 मई से शुरू हुआ. डब्ल्यूबीटीसी ने प्रबंधक निदेशक की ओर से जारी एक अधिसूचना के अनुसार वातानुकूलित सहित बाकी बसें शहर सहित उपनगर और जिलों में सुबह सात बजे से शाम सात बजे के बीच विभिन्न मार्गों पर चलेंगी. उसने कहा कि बसों में यात्रियों की संख्या बस के आकार, स्वास्थ्य एवं सुरक्षा मापदंडों पर निर्भर करती है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें