1. home Hindi News
  2. national
  3. chinese spy arrested from malda while infiltrating india china sent indias 1300 sim hidden in undergarments vwt

भारत में घुसपैठ करते हुए मालदा से चाइनीज जासूस गिरफ्तार, अंडरगारमेंट्स में छिपाकर भारत का 1300 सिम भेज दिया चीन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बीएसएफ के हाथों गिरफ्तार चीनी जासूस हान जुनवई.
बीएसएफ के हाथों गिरफ्तार चीनी जासूस हान जुनवई.
फोटो साभार : एएनआई.

मालदा : कोरोना महामारी को लेकर दुनिया भर के वैज्ञानिकों के निशाने पर चीन अब भारत में अपने जासूसों की घुसपैठ कराना शुरू कर दिया है. सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने गुरुवार को भारत-बांग्लादेश सीमा से घुसपैठ करने की फिराक में पश्चिम बंगाल के मालदा से एक चीनी नागरिक को गिरफ्तार किया है. देर शाम तक सीमा सुरक्षा बल, स्थानीय पुलिस और खुफिया एजेंसियों ने इस चीनी नागरिक से कड़ी पूछताछ की.

बीएसएफ के सूत्रों के हवाले से शुक्रवार को समाचार एजेंसी एएनआई ने खबर दी है कि मालदा के सीमाई इलाके में बीएसफ के जवानों ने घुसपैठ करते हुए 35 साल के एक चीनी नागरिक को गिरफ्तार किया है. जब बीएसएफ के जवानों ने उससे पूछताछ की, तो उसने संतोषजनक जवाब नहीं दिए. इसे तुरंत बाद ही खुफिया एजेंसी और स्थानीय पुलिस को इस बारे में सूचना दी गई. अब खुफिया एजेंसी उससे पूछताछ कर रही है.

चीन के हबेई प्रांत का रहने वाला हान जुनवई

एएनआई ने बीएसएफ के हवाले से जानकारी दी है कि गिरफ्तार चीनी नागरिक का नाम हान जुनवई है और वह चीन के हबेई प्रांत का रहने वाला है. पूछताछ के दौरान उसके पास से चीन का पासपोर्ट मिला है, जो बिजनेस वीजा पर दो जून को पढ़ने के लिए बांग्लादेश की राजधानी ढाका पहुंचा था और वह वहां पर अपने चीनी साथी के साथ ठहरा हुआ था.

भारत में घुसपैठ करते वक्त बीएसएफ जवानों के हाथों पकड़ा गया

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, बीते 8 जून को वह बांग्लादेश के चपई नवाबगंज या नवाबगंज जिले की सोना मस्जिद पहुंचकर ठहरा हुआ था. 10 जून को जब वह भारत की सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश कर ही रहा था, तभी बीएसएफ जवानों के हाथों गिरफ्तार कर लिया गया.

चार बार पहले भी आ चुका है भारत

चीनी घुसपैठिए ने कहा कि इसके पहले भी वह चार बार भारत आ चुका है. 2010 में वह हैदराबाद और दिल्ली आ चुका है और तीसरी बार वह 2019 में गुड़गांव आया था. उसने कहा कि उसका बिजनेस पार्टनर को लखनऊ में एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया था.

भारत में खुफिया एजेंसी के लिए कर रहा था काम

एजेंसी के अनुसार, चीन में उसके खिलाफ पहले से ही मामला दर्ज होने की वजह से उसे भारत का वीजा नहीं मिला, तब उसने बांग्लादेश और नेपाल के वीजा पर भारत में घुसपैठ करने का फैसला किया. उसके पास से बरामद किए गए इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में से कई ऐसी जानकारियां मिली हैं कि वह भारत में किसी खुफिया एजेंसी के लिए काम कर रहा था.

अंडरगारमेंट्स में छिपाकर भारत का 1300 सिम ले गया भारत

समाचार एजेंसी की खबर के अनुसार, हान वांटेड क्रिमिनल है और गहन पूछताछ के दौरान चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं. इस पूछताछ में उसने कबूल किया है कि नकली दस्तावेजों का इस्तेमाल करके करीब 1300 भारत का सिम चीन ले गया है. वह अपने सहयोगी के जरिए सिम को अंडरगारमेंट्स में छिपाकर चीन भेजता था.

Poted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें