1. home Hindi News
  2. national
  3. cbse 12th result what will students do after the cancellation of class 12th exam know what is the opinion of experts aml

CBSE 12th Result: 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद क्या करेंगे छात्र? जानें क्या है एक्सपर्ट्स की राय

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
CBSE 12th Result: 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद क्या करेंगे छात्र?
CBSE 12th Result: 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद क्या करेंगे छात्र?
Twitter

नयी दिल्ली : देश में कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के बीच सीबीएसई ने 12वीं बोर्ड की परीक्षा (CBSE 12th Board Exam) भी रद्द कर दी है. इससे पहले सीबीएसई ने 10वीं बोर्ड की परीक्षा भी रद्द कर दी थी. दसवीं के छात्रों को इंटरनल असेसमेंट (Internal Assessment) के आधार पर प्रोन्नत किया गया था. लेकिन 12वीं बोर्ड के छात्रों को कैसे नंबर दिये जायेंगे, इस पर सस्पेंस अभी बरकरार है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार को कहा कि यह फैसला छात्रों के हित में लिया गया है. छात्रों और शिक्षकों की सुरक्षा के लिए यह जरूरी था.

सीबीएसई की तर्ज पर मंगलवार को ही सीआईएससीई ने भी 12वीं की परीक्षा रद्द करने की घोषणा कर दी है. विद्यार्थियों एवं अभिभावकों ने भी इस फैसले से राहत महसूस की है. लेकिन सबसे बढ़ा सवाल अभी भी मार्क्स को लेकर बना हुआ है. किशोर छात्रों के लिए 12वीं बोर्ड की परीक्षा के बड़े मायने होते हैं. इसी बोर्ड के नंबरों के आधार पर बड़े कॉलेजों में दाखिला और कई प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने का मौका मिलता है. ऐसे में सबकी नजरें इस बात पर टिकी हैं कि छात्रों को नंबर किस आधार पर मिलेंगे.

10वीं बोर्ड की तर्ज पर ही मिल सकते हैं नंबर

कुछ दिनों पहले जब सीबीएसई और सीआईएससीई ने 10वीं बोर्ड की परीक्षाएं रद्द की थी तो छात्रों को इंटरनल असेसमेंट के आधार पर नंबर दिये गये थे. छात्रों को पूर्व में दिये गये टेस्ट परीक्षाओं के आधार पर 80 फीसदी नंबर मिले थे, जबकि 20 फीसदी अंक इंटरनल असेसमेंट से दिये गये थे. अब हो सकता है कि 12वीं बोर्ड के लिए भी इसी फार्मूले को अपनाया जाए. वैसे अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं की गयी है कि छात्रों को नंबर कैसे दिये जायेंगे. विशेषज्ञों का मानना है कि 12वीं में नंबर देने के लिए 9वीं और 10वीं की परीक्षाओं के नंबर भी आधार बनाये जा सकते हैं.

छात्रों के पास परीक्षा देने का होगा ऑप्शन

दसवीं बोर्ड की तरह ही सीबीएसई ने 12वीं के छात्रों को भी कहा है कि परीक्षा रद्द जरूर कर दिये गये हैं, लेकिन जो छात्र परीक्षा देना चाहेंगे, उनके लिए परीक्षा का आयोजन किया जायेगा. जो भी छात्र इंटरनल असेसमेंट के आधार पर पास नहीं होना चाहते हैं, वे परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदन दे सकते हैं. सीबीएसई जल्द ही इसकी प्रक्रिया के बारे में सूचना देगा. लेकिन परीक्षा का आयोजन कोरोना संकट के कम होने या समाप्त होने का बाद ही किया जायेगा.

किस प्रकार होगा कॉलेजों में एडमिशन

जुलाई में सीबीएसई 12वीं के रिजल्ट आने की उम्मीद है. इसके बाद असंतुष्ट छात्र परीक्षा के लिए आवेदन कर पायेंगे. जो अपने परिणाम से संतुष्ट हैं वे कॉलेजों में एडमिशन के लिए आवेदन कर सकते हैं. एक्सपर्ट का कहना है कि कई बड़े कॉलेज नंबरों के आधार पर एडमिशन नहीं लेते, वहां प्रवेश परीक्षा देनी होती है. ऐसे में छात्रों के लिए ऑनलाइन प्रवेश परीक्षाएं आयोजित की जा सकती हैं. ऐसे में छात्रों को 12वीं के नंबर को लेकर ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है. इसी प्रकार विदेशों में दाखिला लेने वाले छात्र भी प्रवेश परीक्षा पास कर अपना दाखिला करा सकते हैं.

प्रतियोगी परीक्षाओं का क्या होगा

बता दें कि कोरोना संक्रमण के इस दौर में भारत पिछले ही साल से परेशान है. कई परीक्षाओं को रद्द किया गया है, जबकि कई परीक्षाएं ऑनलाइन आयोजित की गयी हैं. जानकारों का कहना है कि ऐसे में उम्मीद जतायी जा रही है कि कोरोना की दूसरी लहर पर जब तक काबू नहीं पाया जायेगा, फिजिकल परीक्षाओं के आयोजन नहीं होंगे. ऐसे में प्रतियोगी परीक्षाएं भी ऑनलाइन आयोजित हो सकती है. 12वीं बोर्ड परीक्षा पास कर चुके छात्र ऐसे परीक्षाओं में ऑनलाइन शामिल हो सकते हैं और नामांकन प्राप्त कर सकते हैं.

कई राज्यों ने किया फैसले का स्वागत

12वीं बोर्ड की परीक्षा रद्द करने के केंद्र सरकार और सीबीएसई के फैसले का कई राज्यों ने स्वागत किया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंगल सिंगला सहित हरियाण आदि राज्यों ने भी परीक्षा रद्द किये जाने के फैसले का स्वागत किया है. केंद्र में प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस ने भी परीक्षा के रद्द किये जाने का स्वागत किया और कहा कि कांग्रेस काफी पहले से ही परीक्षा रद्द करने की मांग कर रही थी.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें