1. home Home
  2. national
  3. cbi raids premises of former maharashtra home minister anil deshmukh in nagpur amh

CBI raids : सीबीआई के रडार पर अनिल देशमुख, जारी है छापेमारी

सीबीआई ने देशमुख और कुछ अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ आपराधिक साजिश रचने तथा भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम से संबंधित भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत ‘‘सार्वजनिक कर्तव्यों के अनुचित एवं बेईमानी पूर्ण निर्वहन के जरिए अनुचित लाभ अर्जित करने की कोशिश'' का मामला दर्ज किया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख
महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख
File Photo

CBI raids : महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख के नागपुर स्थित आवास पर केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की छापेमारी जारी है. इस संबंध में अधिकारियों ने जानकारी दी कि ऐसा माना जा रहा है कि देशमुख के नागपुर और मुंबई स्थित परिसरों पर छापेमारी की जा रही है. एजेंसी ने इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दी कि छापेमारी किस मामले में की जा रही है.

आपको बता दें कि सीबीआई ने देशमुख और कुछ अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ आपराधिक साजिश रचने तथा भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम से संबंधित भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत ‘‘सार्वजनिक कर्तव्यों के अनुचित एवं बेईमानी पूर्ण निर्वहन के जरिए अनुचित लाभ अर्जित करने की कोशिश'' का मामला दर्ज किया है.

यहां चर्चा कर दें कि मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह को हटाए जाने के बाद के घटनाक्रम में देशमुख के खिलाफ ये आरोप सामने आए थे.

मेरे खिलाफ ईडी की कार्रवाई दुर्भावनापूर्ण

यदि आपको याद हो तो महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख ने पिछले दिनों बंबई हाई कोर्ट में दलील दी कि कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा उनके खिलाफ शुरू की गई कार्रवाई ''दुर्भावनापूर्ण'' है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता विक्रम चौधरी ने न्यायमूर्ति नितिन जमादार और न्यायमूर्ति एस वी कोतवाल की पीठ को बताया कि जिस तरह से केंद्रीय एजेंसी ने उन्हें समन जारी किया और धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) लगाया, वह देशमुख के मौलिक अधिकारों का उल्लंघन है.

कोर्ट ने अनिल देशमुख के खिलाफ वारंट जारी किया था

कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में जांच के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश नहीं होने पर महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ वारंट जारी किया था. ईडी ने देशमुख के खिलाफ मामला दर्ज कर रखा है. इस मामले में देशमुख के दो सहयोगी-संजीव पलांदे और कुंदन शिन्दे पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं और दोनों इस समय न्यायिक हिरासत में हैं.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें