24.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

HomeचुनावBRS ने कांग्रेस के खिलाफ चुनाव आयोग से की शिकायत, 'डीपफेक' के इस्तेमाल का लगाया आरोप

तेलंगाना में भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) ने कांग्रेस के खिलाफ निर्वाचन आयोग (ईसी) में शिकायत दर्ज कराई है कि पार्टी ने मनगढ़ंत सामग्री बनाने के लिए ‘डीपफेक’ तकनीक का इस्तेमाल किया है.

BRS ने कांग्रेस के खिलाफ चुनाव आयोग से की शिकायत, ‘डीपफेक’ के इस्तेमाल का लगाया आरोप

BRS On Congress : तेलंगाना में भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) ने कांग्रेस के खिलाफ निर्वाचन आयोग (ईसी) में शिकायत दर्ज कराई है कि पार्टी ने मनगढ़ंत सामग्री बनाने के लिए ‘डीपफेक’ तकनीक का इस्तेमाल किया है. बीआरएस ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस ने मुख्यमंत्री एवं बीआरएस अध्यक्ष के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) और राज्य में विधानसभा चुनाव लड़ रहे पार्टी के अन्य प्रमुख नेताओं और उम्मीदवारों को इस तकनीक का इस्तेमाल करके निशाना बनाया है.

क्या है शिकायत?

‘डीपफेक’ तकनीक शक्तिशाली कंप्यूटर और तकनीक का उपयोग करके वीडियो, छवियों, ऑडियो में हेरफेर करने की एक विधि है. मुख्य निर्वाचन आयुक्त, तेलंगाना के मुख्य निर्वाचन अधिकारी और राज्य के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को संबोधित शिकायत में बीआरएस ने कहा कि विश्वसनीय स्रोतों से जानकारी मिली है कि तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमेटी (टीपीसीसी) ‘डीपफेक’ तकनीक और कृत्रिम बुद्धिमत्ता के इस्तेमाल के जरिये ‘‘फर्जी ऑडियो और वीडियो’’ सामग्री बनाने और इसके प्रसार में ‘‘शामिल’’ है.

BRS के नेताओं को निशाना बनाने का आरोप!

इसमें कहा गया है कि मनगढ़ंत सामग्री में केसीआर, के. टी. रामा राव, मंत्री हरीश राव, विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) के. कविता और चुनाव मैदान में खड़े पार्टी के अन्य उम्मीदवारों सहित बीआरएस के प्रमुख नेताओं को निशाना बनाया गया है. बीआरएस ने टीपीसीसी द्वारा तकनीक का कथित तौर पर गैरकानूनी इस्तेमाल किये जाने के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की.

Also Read: Exit Poll 2023: कितना सही साबित होता है एग्जिट पोल? जानें क्या कहते है 2018 के आंकड़े
सामग्री को विभिन्न सोशल मीडिया मंचों पर किया गया प्रसारित!

बीआरएस ने शिकायत में कहा कि ऐसी आशंका है कि हेरफेर करके बनाई गई इस सामग्री को विभिन्न सोशल मीडिया मंचों पर प्रसारित किया गया है. इसमें कहा गया है कि टीपीसीसी को मीडिया प्रारूप में ऐसी भ्रामक सामग्री बनाने और प्रसारित करने से रोकने के लिए आवश्यक कार्रवाई की जानी चाहिए. कविता ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘‘प्रिय मतदाताओं, आइए सतर्क रहें! हताश पार्टियां तेलंगाना में फर्जी खबरें फैला रही हैं! फर्जी खबरों को अपने फैसलों पर हावी न होने दें. किसी जानकारी या सूचना पर विश्वास करने या साझा करने से पहले इसे सत्यापित करें.’’

2,290 उम्मीदवार मैदान में

तेलंगाना की 119-सदस्यीय विधानसभा के लिए हो रहे चुनाव में गुरुवार को दोपहर एक बजे तक 36.68 प्रतिशत मतदान हुआ. सुबह से ही मतदान केंद्रों के बाहर मतदाताओं को कतारों में खड़े देखा गया. चुनाव में मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव, उनके मंत्री पुत्र के. टी. रामाराव, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रेवंत रेड्डी और भाजपा के लोकसभा सदस्यों- बंडी संजय कुमार तथा डी. अरविंद समेत करीब 2,290 उम्मीदवार मैदान में हैं.

छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण

मुख्य निर्वाचन अधिकारी विकास राज ने संवाददाताओं को बताया कि एक या दो जगहों पर छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है. उन्होंने उम्मीद जताई कि शहरी इलाकों में अब तक कम रहा मतदान प्रतिशत शाम तक बढ़ सकता है. मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव और उनकी पत्नी के. शोभा ने सिद्दीपेट में चिनरामाडाका गांव में मतदान किया.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें