1. home Hindi News
  2. national
  3. bihar government files detail reply to supreme court in rhea chakraborty petition seeking transfer of fir from patna to mumbai in sushant singh rajput death case rjh

Sushant SinghRajput death case: एसपी विनय तिवारी को मुंबई पुलिस ने वर्चुअली हिरासत में रखा था, बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया जवाब

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Supreme Court
Supreme Court
Photo : Twitter

नयी दिल्ली : बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह की मौत मामले में आज सुप्रीम कोर्ट में बिहार सरकार ने अपना विस्तृत जवाब दाखिल किया. अपने जवाब में बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि विनय तिवारी जो बिहार में एसपी हैं वे दो अगस्त को मुंबई पहुंचे थे. उन्होंने इस संबंध में मुंबई पुलिस को जानकारी दी थी. बावजूद इसके उन्हें कोरेंटिन किये जाने के नाम पर वर्चुअली हिरासत में रखा गया. उन्हें अपने कर्तव्य पालन से रोका गया और सुशांत की मौत मामले उन्हें जांच नहीं करने दिया गया.

बिहार पुलिस के इंस्पेक्टर जनरल ने मुंबई पुलिस के अधिकारियों से एसपी विनय तिवारी के कोरेंटिन को हटाये जाने की गुजारिश भी की, लेकिन अफसोस की बात यह है कि उनके आग्रह पर मुंबई पुलिस ने ध्यान नहीं दिया. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट में रिया चक्रवर्ती की उस याचिका पर सुनवाई हो रही है जिसमें उन्होंने इस केस को बिहार से ट्रांसफर करने की गुहार लगायी है. इस केस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कहा था कि सभी पक्ष 13 अगस्त को अपना-अपना जवाब दाखिल करें, जिसके बाद बिहार सरकार की ओर से विस्तृत जवाब दाखिल किया गया है.

रिया चक्रवर्ती ने भी इस मामले में अपना पक्ष कोर्ट के सामने पेश किया है. रिया के वकील ने पिछली सुनवाई में कहा था कि इस मामले में पक्षपात किया जा रहा है. इसलिए उनकी प्रार्थना पर ध्यान दिया जाये ताकि न्याय हो सके. वहीं सुशांत के परिवार वाले रिया चक्रवर्ती पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं उनका यह कहना है कि सुशांत की आत्महत्या के लिए रिया चक्रवर्ती ही दोषी है.

11 अगस्त की सुनवाई में रिया के वकील ने कहा था अगर मामले को पटना से मुंबई ट्रांसफर नहीं किया जाता तो रिया को इंसाफ नहीं मिलेगा. पटना में शिकायत दर्ज होने के पीछे राजनीतिक वजह है. रिया के वकील ने सुप्रीम कोर्ट में मीडिया ट्रायल पर रोक लगाने के लिए दायर किए गए हलफनामे पर भी अदालत को गौर करने को कहा था.

Posted By : Rajneesh Anand

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें