पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए भारत भी करे संघर्षविराम का उल्लंघन : शिवसेना

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मुंबई : जम्मू-कश्मीर में सीमा पार से लगातार संघर्षविराम उल्लंघन को लेकर पाकिस्तान पर बरसते हुए शिवसेना ने आज कहा कि पडोसी देश को सबक सिखाने के लिए यदि भारत भी ऐसा ही करे तो यह गलत नहीं होगा.
शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में लिखा, 2013 में पाकिस्तान ने 347 बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया और 2014 में यह संख्या बढकर 562 हो गई. सीमा पार से सटे इलाकों में रह रहे कम से कम 32,000 लोगों को कहीं और आश्रय की तलाश में अपना घर छोडना पडा.
शिवसेना ने कहा, जब भारतीय सेना इसका पलटकर जवाब देगी और पाकिस्तानियों को मार गिराएगी तभी पडोसी देश से गोलीबारी रुकेगी. यदि पाकिस्तान जैसा एक छोटा देश कई दफा संघर्षविराम का उल्लंघन कर सकता है तो इनकी दुम सीधी करने के लिए भारत के लिए भी संघर्षविराम का उल्लंघन करना गलत नहीं होगा.
भगवा पार्टी ने कहा कि पाकिस्तान के आर्थिक हालात अब हर गुजरते दिन के साथ बद से बदतर होते जा रहे हैं और उसे केवल अमेरिका से मिल रही वित्तीय सहायता पर गुजर करने के लिए जाना जाता है.
इसके अनुसार, एक राष्ट्र के तौर पर पाकिस्तान की स्थिति बदतर हो गई है. भारत पर हमले के लिए पाकिस्तान ने अपनी सरजमीं से जिस आतंकवाद को बढावा दिया, अब वही उसे तबाह कर रहा है.
भारत में आतंकवादी गतिविधियां उल्लेखनीय रुप से कम हुई हैं लेकिन पाकिस्तान में अब यह रोजाना की बात हो गई है. सोमवार को पाकिस्तानी बलों ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा स्थित भारत की अग्रिम चौकियों पर स्वचालित हथियारों और रॉकेट चालित ग्रेनेडों से हमला कर संघर्षविराम का उल्लंघन किया था जिसमें एक भारतीय जवान घायल हो गया था.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें