CJI रंजन गोगोई अंतिम बार पीठ में शामिल हुए, राजघाट जाकर दी श्रद्धांजलि

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : भारत के प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई आज 15 नवंबर को अपने कार्यकाल के अंतिम ‘वर्किंग डे’ में राजघाट गये और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी. वे आज न्यायालय के कक्ष संख्या एक में पीठ में अंतिम बार शामिल भी हुए. शीर्ष अदालत का कक्ष संख्या एक प्रधान न्यायाधीश का कक्ष होता है. न्यायमूर्ति गोगोई महज चार मिनट के लिए इस पीठ में बैठे.

पीठ में उनके अतिरिक्त न्यायमूर्ति एसए बोबडे भी थे, जो देश के अगले प्रधान न्यायाधीश बनने वाले हैं. इस दौरान सुप्रीम कोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश खन्ना ने बार की ओर से प्रधान न्यायाधीश के प्रति आभार व्यक्त किया. भारत के प्रधान न्यायाधीश के तौर पर न्यायमूर्ति रंजन गोगोई का कार्यकाल रविवार को समाप्त हो रहा है. चीफ जस्टिस पिछले साल प्रधान न्यायाधीश पद की शपथ लेने के बाद भी राजघाट गये थे.

न्यायमूर्ति गोगोई बाद में सभी उच्च न्यायालयों के 650 न्यायाधीशों और 15,000 न्यायिक अधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बात करेंगे. न्यायमूर्ति गोगोई द्वारा सभी न्यायाधीशों और न्यायिक अधिकारियों को को अपना संदेश भी दिये जाने की भी उम्मीद है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें