संप्रग सरकार के समय प्रणब, वी के सिंह की जासूसी का आदेश किसने दिया था : नड्डा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : पत्रकारों की कथित ऑनलाइन जासूसी को लेकर सरकार की आलोचना करने पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधते हुए भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने शनिवार को कहा कि सोनिया को बताना चाहिए कि संप्रग सरकार के समय तत्कालीन केंद्रीय मंत्री प्रणब मुखर्जी और तत्कालीन सेना प्रमुख जनरल वी के सिंह की जासूसी का आदेश किसने दिया था.

सोनिया ने आरोप लगाया था कि सरकार ने व्हाट्सएप के माध्यम से सामाजिक कार्यकर्ताओं और पत्रकारों की जासूसी के लिए इजरायली सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया था. इस पर जवाब देते हुए नड्डा ने कहा कि इस विषय पर सोनिया का बयान ‘झूठा तथा देश को गुमराह करने के इरादे से दिया गया' है. नड्डा ने एक बयान में कहा, ‘भाजपा इस झूठे बयान की कड़ी निंदा करती है जो द्वेषपूर्ण है.'
उन्होंने कहा कि सरकार इस मुद्दे पर अपना रुख पहले ही साफ कर चुकी है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष को साफ करना चाहिए कि कांग्रेस नीत संप्रग सरकार के समय जासूसी का आदेश किसने दिया था. नड्डा ने कहा, ‘श्रीमती गांधी क्या देश को बता सकती हैं कि 10 जनपथ पर किसने संप्रग सरकार में मंत्री रहे प्रणब मुखर्जी और उस समय के सेना प्रमुख जनरल वी के सिंह की जासूसी का आदेश दिया.'
सोनिया गांधी दिल्ली में 10 जनपथ स्थित आवास पर ही रहती हैं. नड्डा ने सोनिया का घेराव करते हुए कहा, ‘ऐसा लगता है कि सोनिया गांधी कांग्रेस नीत संप्रग सरकार के दौरान एक साजिश के तहत कई मशहूर हस्तियों की जासूसी पर अपने विचार व्यक्त कर रही थीं.'
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें