1. home Home
  2. health
  3. national trend of sex ratio disregarded in andhra pradesh and kerala covid 19 vaccination ksl

आंध्र प्रदेश और केरल में कोरोना टीका लगाने में किया गया भेद-भाव, लिंगानुपात के राष्ट्रीय नियमों के पालन में उल्लंघन का मामला आया सामने

देश में वैक्सीनेशन अभियान में लिंगानुपात में बड़ा अंतर कई राज्यों में देखने को मिल रहा है. देश के कई राज्य ऐसे हैं, जहां पुरुषों की तुलना में महिलाएं या तो समान हैं, या फिर अधिक. वैक्सीनेशन अभियान में लिंग विभाजन कई राज्यों में स्पष्ट दिखाई दे रहा है. वहीं, को-विन पोर्टल के मुताबिक, आंध्र प्रदेश और केरल द्वारा नेशनल ट्रेंड का पालन नहीं करने का मामला सामने आया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
Twitter

नयी दिल्ली : देश में वैक्सीनेशन अभियान में लिंगानुपात में बड़ा अंतर कई राज्यों में देखने को मिल रहा है. देश के कई राज्य ऐसे हैं, जहां पुरुषों की तुलना में महिलाएं या तो समान हैं, या फिर अधिक. वैक्सीनेशन अभियान में लिंग विभाजन कई राज्यों में स्पष्ट दिखाई दे रहा है. वहीं, को-विन पोर्टल के मुताबिक, आंध्र प्रदेश और केरल द्वारा नेशनल ट्रेंड का पालन नहीं करने का मामला सामने आया है.

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, भारत में शनिवार तक करीब 32 करोड़ लोगों को वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है. आंकड़ों से पता चलता है कि वैक्सीन की खुराक लेने में महिलाएं पिछड़ रही हैं. जबकि, वैक्सीन की खुराक लेने में पुरुष आगे हैं. आंकड़ों से पता चलता है कि अब तक दी गयी वैक्सीन की खुराक में करीब 54 फीसदी पुरुष थे, जबकि मात्र 46 फीसदी महिलाएं ही खुराक प्राप्त कर सकी हैं.

को-विन पोर्टल के मुताबिक, भारत में 31.62 करोड़ लोगों को वैक्सीन की खुराक अब तक दी गयी है. इनमें से करीब 14.58 करोड़ यानी 46.11 फीसदी महिलाएं हैं. जबकि, 17.04 करोड़ पुरुषों को वैक्सीन की खुराक दी गयी है. यह कुल संख्या का करीब 54 फीसदी है.

देश के सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़ और केरल में पुरुषों की तुलना में महिलाओं को अधिक वैक्सीन की खुराक दी गयी है. हालांकि, कई राज्य ऐसे हैं, जहां पुरुषों और महिलाओं के प्रतिशत में खास अंतर नहीं है. जबकि, कई राज्यों में महिलाओं की तुलना में पुरुषों को काफी अधिक वैक्सीन की खुराक दी गयी है.

आंकड़ों को देखें तो अब तक आंध्र प्रदेश में 68,92,013 पुरुषों और 79,30760 महिलाओं को वैक्सीन की खुराक दी गयी है. वहीं, छत्तीसगढ़ में 37,65,915 पुरुषों और 38,19,386 महिलाओं को वैक्सीन की खुराक दी गयी है. जबकि, केरल में 64,72,138 पुरुषों और 70,08,607 महिलाओं को अब तक वैक्सीन की खुराक दी गयी है.

गोवा, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, लक्षद्वीप, मिजोरम, पुडुचेरी, त्रिपुरा जैसे राज्यों में लिंगानुपात में अंतर काफी कम है. वहीं, उत्तर प्रदेश, दादरा एंड नागर हवेली, दमन एंड दीव, मध्य प्रदेश जैसे कई राज्यों में महिलाओं की तुलना में पुरुषों को अधिक वैक्सीन की खुराक दी गयी है. इन राज्यों में लिंगानुपात में काफी ज्यादा का अंतर है.

आंकड़ों में देखें तो गोवा में 4,48,293 पुरुष और 4,07,632 महिलाओं, हिमाचल प्रदेश में 17,43,110 पुरुषों और 17,37,995 महिलाओं, कर्नाटक में 1,10,37,098 पुरुषों और 1,05,79,701 महिलाओं, लक्षद्वीप में 29,539 पुरुषों और 24,174 महिलाओं, मिजोरम में 2,77,418 पुरुषों और 2,72,731 महिलाओं, पुडुचेरी में 2,44,633 पुरुषों और 2,34,753 महिलाओं, त्रिपुरा में 12,69,970 पुरुषों और 11,96,692 महिलाओं को वैक्सीन की खुराक दी गयी है.

मालूम हो कि 2011 की जनसंख्या के आंकड़े के मुताबिक, आंध्र प्रदेश में 4,24,42,146 पुरुषों की तुलना में 4,21,38,631 महिलाएं, केरल में 1,60,27,412 पुरुषों की तुलना में 1,73,78,649 महिलाएं और छत्तीसगढ़ में 1,28,32,895 पुरुषों की तुलना में 1,27,12,303 महिलाएं हैं. लिंगानुपात के आंकड़ों के अनुपात में आंध्र प्रदेश और केरल में पुरुषों की तुलना में महिलाओं को अधिक वैक्सीन की खुराक दी गयी है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें