1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. mumbai police said badshah confessed to purchase crores of fake views for rs 72 lakh rapper denies allegations

मुंबई पुलिस का दावा- बादशाह ने 72 लाख रुपए में खरीदे फर्जी व्यूज, सिंगर ने किया खारिज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Rapper Badshah
Rapper Badshah
photo: twitter

Rapper Badshah: फेमस सिंगर और रैपर बादशाह ने क्राइम ब्रांच के सामने फेक फॉलोवर्स मामले में चौंकानेवाले खुलासे किये हैं. क्राइम ब्रांच के सूत्रों के मुताबिक सबसे बड़ा खुलासा उनके सॉन्ग "पागल है" को लेकर हुआ है. बादशाह ने दावा किया था कि सॉन्‍ग लॉन्‍च के पहले ही दिन बादशाह के सॉन्‍ग को 75 मिलियन बार देखा गया है जो एक वर्ल्‍ड रिकॉर्ड है. हालांकि गूगल ने इस दावे को खारिज कर दिया था. क्राइम ब्रांच ने बादशाह से उनके फॉलोवर्स की सूची मांगी है.

क्राइम ब्रांच के सूत्रों के अनुसार, अपने स्टेटमेंट में बादशाह ने माना है कि उन्होंने अपने इस सॉन्ग के लिए फेक फॉलोअर्स को बढ़ाने के लिए एक एजेंसी को करीब 75 लाख रुपये दिए थे. हालां‍कि बादशाह ने इस एडवरटाइजिंग एजेंसी को जो रकम दी है, वह रकम फेक फॉलोअर्स खरीदने के लिए चुकाई गई थी या फिर किसी और सर्विस के लिए. फिलहाल क्राइम ब्रांच इसकी जांच कर रही है.

हालांकि बादशाह ने ऐसे सभी आरोपों से साफ इंकार किया है. उन्‍होंने अपने आधिकारिक बयान में कहा, ''मैंने मुंबई पुलिस से बात की है. मैं जांच में पूरा सहयोग कर रहा हूं. मैं मेरे ऊपर लगाए गए सभी आरोपों को खारिज करता हूं. मैं इस तरह की गतिविधियों में कभी शामिल नहीं हूं.मैं ऐसी किसी भी गतिविधि का समर्थन नहीं करता हूं. जांच प्रक्रिया चल रही है. मुझे जांच करनेवालों पर पूरा भरोसा है.'

बता दें कि पिछले दिनों बादशाह अपने गाने ‘गेंदा फूल’ को लेकर सुर्खियों में थे. लेकिन इस गाने के साथ एक विवाद भी जुड़ा था. कहा गया था कि इस गाने में बांग्‍ला का जो हिस्‍सा है वह चोरी का है. बादशाह पर भी सोशल मीडिया पर भी लोगों ने जमकर निशाना साधा था. हालांकि इस पूरे विवाद पर चुप्‍पी तोड़ते हुए उन्‍होंने कहा था कि

उन्‍होंने आगे लिखा था,' 26 मार्च को मैंने ‘गेंदा फूल’ रिलीज किया, जो बांग्ला लोकगीत के लिरिक्स के साथ एक हिंदी गाना है. कुछ दिनों बाद मुझे मेरे सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म पर पता चला कि गाने में जो बंगाली लिरिक्स हैं, वो ओरिजनली ‘बोरो लोकेर बिटी लो’ गाने का है जिसे वेटरन आर्टिस्ट रतन कहर ने लिखा है.'

बादशाह ने आगे लिखा था,' हमने गाने को रिलीज़ करने से पहले लिरिसिस्ट को खोजने के लिए जमकर मेहनत की. लेकिन गाने के पुराने वर्जन में या कॉपीराइट में लिरिसिस्ट के तौर पर रतन कहर का कहीं कोई नाम नहीं था. सारी जानकारियां यही बता रही थीं कि ‘बोरो लोकेर बिटी लो’ गाना बंगाल का एक लोक गीत है. सामान्य जानकारी के लिए, Traditional/Folk सॉन्ग्स दुनियाभर में रीक्रिएशन दोबारा बनाकर बेचे जा सकते हैं.'

रैपर ने लिखा था,' मैं रतन कहर तक पहुंचने की पूरी कोशिश कर रहा हूं. लेकिन लॉकडाउन की स्थिति में मैं उनसे नहीं मिल पा रहा हूं. जिस गांव में रतन कहर रहते हैं वहां तक पहुंचना बहुत मुश्किल हो रहा है. मेरी आपसे प्रार्थना है कि कोई आगे आये जो रतन कहर की तरफ से मुझसे बात कर सके. उनतक पहुंचने में मेरी मदद कर सकें.'

Posted By: Budhmani Minj

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें