37.3 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

KBC 14: अबू सलेम को पकड़वाने वाले ऑफिसर रुपिन पहुंचे केबीसी में, बतायी पूरी कहानी

अमिताभ बच्चन रूपिन का स्वागत करते हैं. इसके बाद उनसे पूछते हैं कि उन्होंने एक मोस्ट वांटेड को गिरफ्तार किया था. रूपिन बताते हैं कि, वो 1992 में इस सेवा में शामिल हुए थे और कुछ दिनों के बाद मुंबई में कई विस्फोट हुए. उस समय उन्होंने एटी इंटरपोल सीबीआई के लिए काम किया.

Kaun Banega Crorepati 14: अमिताभ बच्चन के शो कौन बनेगा करोड़पति 14 की शानदार शुरुआत हो चुकी है और इसके कंटेस्टेंट ट्रेंड में बने हुए हैं. नागालैंड के डीजीपी रुपिन शर्मा हाल ही में शो का हिस्सा बनें और उन्होंने कई खुलासे किये. रिपोर्ट्स के अनुसार, उन्होंने उन्होंने 2000 में मोस्ट वॉन्टेंड क्रिमिनल अबू सलेम (Abu Salem) को अरेस्ट करवाया था जो 1993 में मुंबई बम धमाकों का दोषी है. केबीसी में उन्होंने इस बारे में बताया जिसे सुनकर खुद बिग भी हैरान रह गये. उन्होंने उनका ऑटोग्रॉफ भी मांगा.

1992 में इस सेवा में शामिल हुए थे

अमिताभ बच्चन रूपिन का स्वागत करते हैं. इसके बाद उनसे पूछते हैं कि उन्होंने एक मोस्ट वांटेड को गिरफ्तार किया था. रूपिन बताते हैं कि, वो 1992 में इस सेवा में शामिल हुए थे और कुछ दिनों के बाद मुंबई में कई विस्फोट हुए. उस समय उन्होंने एटी इंटरपोल सीबीआई के लिए काम किया और सेवा के दौरान वह अबू सलेम केस में आए. उन्होंने अबू सलेम के सरेंडर की पूरी कहानी का खुलासा किया.

हमने 4-5 लोगों की एक टीम बनाई

उन्होंने कहा, “जब हमने मामले पर काम करना शुरू किया, तो हमें तत्काल सफलता नहीं मिली, फिर हमने दूसरे राज्यों से बात की और अपना डेटा अपडेट किया. उन दिनों पासपोर्ट की सभी कागजी कार्रवाई हार्डकॉपी में होती थी. इसलिए डेटाबेस कमजोर था. अपराधियों के पास एक से अधिक पासपोर्ट और अन्य लोगों के नाम होंगे. हमने 4-5 लोगों की एक टीम बनाई और छोटी लीड पर काम करना शुरू किया.

साल 2002 में हमें ईमेल मिला

रूपिन ने आगे बताया कि, साल 2002 में हमें एक ईमेल मिला कि वहाँ एक व्यक्ति जो खुद को दानिश बेग और उसकी साथी फौजिया उस्मान कहता है, वे अबू सलेम और मोनिका बेदी हो सकते हैं. वे इस समय पुर्तगाल में हैं और पहले नॉर्वे और फिर कनाडा जाने की प्लानिंग बना रहे हैं. जब हमने डेटा एक्सेस किया, तो हमें एक लीड मिली कि मोनिका बेदी के माता-पिता नॉर्वे से थे. हमने ईमेल का पता लगाया और पता चला कि यह पुर्तगाल से आया है. हमने वहां की सरकार से संपर्क किया और उन्हें उसे खोजने के लिए कहा. हमें आश्वासन दिया गया था कि वह वास्तव में अबू सलेम है. हमने उन्हें आश्वासन दिया और एक दिन जब हम कार्यालय पहुंचे तो हमें पता चला कि उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है और हम खुश थे.”

Also Read: तापसी पन्नू की Boycott ट्रेंड पर सीधी बात, बोलीं- ये ‘मजाक’ के अलावा और कुछ नहीं है…
रूपिन की सोशल मीडिया पर जमकर हो रही तारीफ

रूपिन, केबीसी में 6 लाख 40 हजार रुपये जीतने में कामयाब रहे. वो 2.50 लाख के सवाल का जवाब नहीं दे पाये और उन्होंने शो क्विट कर दिया. हालांकि रूपिन की सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें