Angelina Jolie की बोली- अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने वाली महिलाओं को धूर्त करार दिया जाता है

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

न्यूयॉर्क : हॉलीवुड अभिनेत्री एंजेलिना जोली ने कहा कि समाज में उन महिलाओं को 'धूर्त' करार दिया जाता जाता है जो अपना अधिकार छीने जाने और आवाज दबाने को नहीं तैयार हैं.

उन्होंने कहा कि उनके विचार में दुनिया में ज्यादा से ज्यादा इस तरह की महिलाएं होनी चाहिए. हॉलीवुड अभिनेत्री ने एले पत्रिका में लिखे गए अपने आलेख में कहा कि उस अवधारणा को बदलने की जरूरत है जो अन्याय से थक चुकी महिलाओं को 'अस्वभाविक' और 'खतरनाक' बताती हैं.

जोली ने कहा कि समाज में बने-बनाये नियम के खिलाफ आ‍वाज उठानेवाली महिलाओं को असामान्य करार देते हुए उसके लिए 'अजीब', ' चरित्रहीन', 'धूर्त' और 'खतरनाक' जैसा शब्द इस्तेमाल करते हैं.

यही नहीं चौंकाने वाली बात यह है कि सदियों से चली आ रही इस तरह की सोच हम जिस दुनिया में अभी रह रहे हैं, उसमें अब भी बरकरार है. अभिनेत्री ने कहा कि लोकतांत्रिक देशों में चुनाव लड़ने वाली महिलाओं को प्राय: चुड़ैल तक कह दिया जाता है.

वहीं यूएनएचसीआर की गुडवील एंबेसडर अभिनेत्री ने कहा कि उनके इस आलेख का मतलब पुरुषों और बच्चों के खिलाफ होने वाले अपराध को कमतर देखना नहीं है. उन्होंने कहा, लेकिन दुनिया भर में देखें तो हमें यह पूछना चाहिए कि क्यों महिलाओं को दोयम दर्जे का बताने के लिए ऊर्जा खर्च की जाती है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें