1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. former miss india finalist aishwarya sheoran who achieved 93rd rank in upsc exam

Miss India फाइनलिस्ट ऐश्वर्या श्योराण ऐसी बनीं IAS, तैयारी के दौरान इस चीज से बना ली थी दूरी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Aishwarya Sheoran
Aishwarya Sheoran
photo: instagram

Miss India finalist Aishwarya Sheoran, UPSC Exam: यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन (UPSC) ने मंगलवार को सिविल सर्विस परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया. नतीजे सामने आने के बाद इंटरनेट पर रैंक होल्डर उम्मीदवारों की सक्सेस स्टोरीज आ रही हैं. इन्हीं में से एक नाम है ऐश्वर्या श्योरान (Aishwarya Sheoran) का. उन्होंने यूपीएससी परीक्षा में पहली बार में ही पूरे भारत में 93वां स्थान प्राप्त किया है. वहीं ऐश्‍वर्या श्‍योरान के करियर की सफलता का यह दूसरा मौका है.

'मिस इंडिया 2016' की फाइनलिस्ट

दिल्ली विश्वविद्यालय के नॉर्थ कैंपस स्थित श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स (एसआरसीसी) से इकोनॉमिक्स ऑनर्स की पढ़ाई कर चुकी ऐश्वर्या ने 19 साल की उम्र में मॉडलिंग के क्षेत्र में कदम रखा था. वह 2016 में ऐश्वर्या 'मिस इंडिया 2016' की फाइनलिस्ट बनीं थीं. उन्‍हें साल 2014 में एक प्रतियोगिता में फ्रेश फेस के टाइटल से भी नवाजा जा चुका है. इस बात की जानकारी फैमिना मिस इंडिया के ट्विटर पेज पर दी गई है.

सोशल मीडिया बंद कर दिया था

ऐश्वर्या श्योरान अपना सबसे बड़ा आदर्श प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मानती हैं. एक वेबसाइट से बातचीत में उन्‍होंने बताया कि, उन्‍होंने साल 2018 से ही यूपीएससी की परीक्षा के लिए तैयारी शुरू कर दी थी. उन्‍होंने बिना कोचिंग के पढ़ाई जारी रखी. पढ़ाई करते समय ऐश्‍वर्या ने सोशल मीडिया से पूरी तरह दूरी बना ली थी. उन्‍हें जो भी पाठ्य सामग्री चाहिए होती थी तो वह इसके लिए अपने पिता से संपर्क करती थीं. उन्‍होंने यह भी कहा कि यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए मॉडलिंग छोड़ दी थी.

नाम के पीछे की कहानी

एक वेबसाइट से इंटरव्‍यू में ऐश्वर्या ने बताया कि, जब ऐश्वर्या राय मिस इंडिया बनी थीं तो उनकी मां ऐश्वर्या की खूबसूरती से बहुत प्रभावित हुईं थीं. इसके बाद ही उन्‍होंने बेटी का नाम ऐश्वर्या रख दिया था. वहीं अपनी मां का सपना साकार करते हुए ऐश्‍वर्या ने कई ब्‍यूटी कॉन्‍टेस्‍ट भी जीते. हालांकि इसके बाद उनका पूरा फोकस यूपीएससी की परीक्षा पर बनाया. उनकी मा के लिए वाकई य‍ह गर्व का क्षण है क्‍योंकि उनकी बेटी ने उनके सपने को उड़ान दी है.

Posted By: Budhmani Minj

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें