21.1 C
Ranchi
Sunday, March 3, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Sam Bahadur के सहायक निर्देशक कुमार अभिषेक का जमशेदपुर से है नाता, ऐसे तय किया लौहनगरी से मायानगरी तक का सफर

मेघना गुलजार की ओर से निर्देशित और विक्की कौशल स्टारर फिल्म सैम बहादूर को दर्शक काफी ज्यादा पसंद कर रहे हैं. फिल्म में सेना के अफसर सैम मानेकशॉ की जिंदगी को दिखाया गया है. झारखंड के कुमार अभिषेक ने मूवी में बतौर सहायक निर्देशक के तौर पर काम किया है. आइये जानते हैं उनके बारे में...

जमशेदपुर, श्याम झा: मेघना गुलजार की फिल्म सैम बहादुर रिलीज हो गयी है. सैम बहादुर फील्ड मार्शल सैम मानेकशॉ की जिंदगी पर आधारित फिल्म है. मूवी में विक्की कौशल, फातिमा सना शेख, सान्या मल्होत्रा, गोविंद नामदेव और मोहम्मद जीशान अय्यूब लीड रोल में हैं. फिल्म शुक्रवार को रिलीज हुई है. इसमें सहायक निर्देशक का दायित्व आदित्यपुर हरिओमनगर हेवेन रिवर व्यू के कुमार अभिषेक ने निभाया है.

जमशेदपुर के कुमार अभिषेक सहायक निर्देशक के तौर पर सैम बहादूर में किया काम

कुमार अभिषेक सेवानिवृत्त डीएसपी आर दयाल के छोटे बेटे हैं. कुमार अभिषेक ने वर्ष 2009 में लोयोला स्कूल के प्लस टू की पढ़ाई की. वर्ष 2017 में रेड-ब्लू नाम से शॉट फिल्म बनायी थी. इसे दादा साहेब फाल्के पुरस्कार दिया गया था. कुमार अभिषेक ने कर्नाटक से बीटेक की पढ़ाई पूरी करने के बाद फिल्म में बतौर लेखक और निर्देशन अपना करियर शुरू किया. कुमार अभिषेक वर्तमान में करण जौहर की फिल्म ‘जिगरा’ में बतौर सहायक निर्देशक काम कर रहे हैं.

मेघना गुलजार ने निर्देशित की सैम बहादूर

सैम बहादुर में सेना के अफसर सैम मानेकशॉ की जिंदगी को दिखाया गया है. किस तरह सैम अपनी धुन के पक्के थे और अपनी बात पर कायम रहते थे. उन्होंने सेना के लिए पांच जंग लड़ीं और उनकी जिंदगी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ दोनों को फिल्म में पेश किया गया है. सैम बहादुर में भारत की कई ऐतिहासिक हस्तियां भी दिखती हैं. सैम के साथ उनकी केमेस्ट्री भी. इस तरह फिल्म की डायरेक्टर मेघना ने सैम की जिंदगी के जरिये इतिहास की कई परतों को भी पेश किया है.

क्या है फिल्म सैम बहादूर की कहानी

पाकिस्तान से पूर्वी पाकिस्तान को अलग कर बांग्लादेश की स्थापना कराने और भारत को मजबूत बनाने में इंदिरा गांधी के साथ-साथ फील्ड मार्शल सैम मानेकशॉ की अहम भूमिका रही. उन्होंने इंदिरा गांधी को युद्ध से पहले पर्चे पर लिखकर बता दिया था कि जंग कब शुरू होगी. 1971 के इस युद्ध से पहले भी उन्होंने कई मौकों पर वीरता का परिचय दिया. वे सेवा में तब से रहे, जब भारत और पाकिस्तान एक मुल्क हुआ करते थे और अंग्रेजों का राज था. द्वितीय विश्व युद्ध, 1962 के भारत-चीन युद्ध से लेकर अपने चालीस वर्ष के सेवाकाल में उन्होंने कई बड़ी लड़ाइयों में देश को जीत दिलायी.इस फिल्म में विक्की कौशल ने सैम मानेकशॉ का किरदार अदा किया है.

Also Read: Sam Bahadur Review: विक्की कौशल के शानदार अभिनय के बावजूद सैम मानेकशॉ को यादगार ट्रिब्यूट नहीं दे पाई फिल्म

सैम बहादुर फिल्म एक नजर में

कलाकार- विक्की कौशल , सान्या मल्होत्रा , फातिमा सना शेख, , नीरज काबी और मोहम्मद जीशान अय्यूब

लेखक- भवानी अय्यर, शांतनु श्रीवास्तव और मेघना गुलजार

निर्देशक- मेघना गुलजार

निर्माता- रॉनी स्क्रूवाला

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें