बोलीं अनुराधा पौडवाल- पद्मश्री मेरी कडी मेहनत का प्रसाद

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

मुंबई : गायिका अनुराधा पौडवाल ने कहा है कि पद्मश्री सम्मान उनकी सालों की कठिन मेहनत का ‘प्रसाद' है. राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता गायिका ने बॉलीवुड में ‘आशिकी', ‘राम-लखन', ‘साजन' और ‘दिल' जैसी फिल्मों के गीतों को गाया है और इसके अलावा वह भक्ति गीत, मंत्र, भजन गाने के लिए जानी जाती हैं.

पौडवाल ने कहा, ‘‘मैं बहुत आभारी हूं. भारत सरकार से मिला यह अनोखा सम्मान है. मैं माता रानी के लिए लंबे समय से गीत गा रही हूं और महसूस करती हूं कि यह सम्मान मेरे कठिन मेहनत का ‘प्रसाद' है. मैं काफी खुश हूं. यह एक खूबसूरत सम्मान है.' गायिका ने कहा कि वह अपने श्रोताओं की आभारी हैं जिन्होंने उनके 45 साल के करियर में काफी समर्थन किया.

मशहूर गायक के जे यशुदास, ग्रैमी विजेता संगीतकार विश्व मोहन भट्ट को पद्म विभूषण से नवाजा गया है. वहीं गायक कैलाश खेर और पौडवाल को पद्मश्री मिला है. यह सम्मान दिखाता है कि इस साल संगीतकारों और गायकों को तरजीह दी गई है. पौडवाल को डीवाई पाटिल विश्वविद्यालय ने डिलिट की डिग्री प्रदान की है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें