MP: जाटों ने "पानीपत" के खिलाफ खोला मोर्चा, तत्काल प्रदर्शन रोकने की मांग

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

इंदौर / भोपाल : आशुतोष गोवारिकर की फिल्म "पानीपत" में महाराजा सूरजमल का किरदार कथित रूप से गलत ढंग से चित्रित किये जाने पर जाट समुदाय ने बृहस्पतिवार से मध्यप्रदेश में विरोध प्रदर्शन तेज कर दिया.

अखिल भारतीय जाट महासभा की मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष विलास पटेल ने कहा, "हम मुख्यमंत्री कमलनाथ से मांग करते हैं कि सूबे में इस फिल्म का प्रदर्शन तत्काल रुकवाया जाये. हमारे इतिहास पुरुष महाराजा सूरजमल के चरित्र का इस फिल्म में गलत चित्रण किया गया है, जो उनके वीरता भरे वास्तविक किरदार से कतई मेल नहीं खाता है."

उन्होंने कहा कि जाट समुदाय फिल्म "पानीपत" के खिलाफ सूबे के प्रमुख शहरों में विरोध प्रदर्शन कर रहा है. इसके साथ ही, फिल्म के खिलाफ केंद्र और राज्य सरकार को ज्ञापन भेजे जा रहे हैं.

इस बीच, प्रदेश के विधि एवं विधायी कार्य मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि फिल्म "पानीपत" का प्रदर्शन प्रतिबंधित करने की मांग पर वह जाट समाज के साथ हैं, क्योंकि महाराजा सूरजमल के ऐतिहासिक शौर्य और पराक्रम से सभी परिचित हैं.
शर्मा ने भोपाल में कहा, ‘‘मैं इसे (फिल्म को लेकर जाट समुदाय का विरोध) मुख्यमंत्री कमलनाथ की जानकारी में लाऊंगा. फिर इस विषय में प्रदेश में उचित कानूनी कार्रवाई करूंगा.' उन्होंने जोर देकर कहा कि इतिहास की घटनाओं पर फिल्में बनाते वक्त विशेष ध्यान रखा जाना चाहिये कि ऐतिहासिक सच के साथ किसी प्रकार की छेड़छाड़ न हो.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें