1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. anupama spoiler alert anupama saves babujis life baa supports anupama and stops vanraj controlling her upcoming episode bud

Anupama Spoiler Alert : अनुपमा के इस फैसले पर फिर भड़का वनराज, क्‍या बा देगी उसका साथ?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
anupama serial
anupama serial
twitter

Anupama Spoiler Alert : सीरियल 'अनुपमा' (Anupama) में इन दिनों दर्शकों को हाई-ड्रामा वोल्डेज देखने को मिल रहा है. शो टीआरपी लिस्‍ट में टॉप पर है. जारी ट्रैक के अनुसार, बाबूजी को दिल का दौरा पड़ा था. अनुपमा के सही फैसले के बाद उनकी गंभीर सर्जरी हुई और वह घर लौट आए हैं. इतना सब होने के बाद भी वनराज का अहंकार उसे ऊँचा रख रहा है. आनेवाले एपिसोड में परिवार करवा चौथ का जश्‍न मनाने वाला है.

वनराज करवा चौथ के मौके पर फिर अनुपमा पर हावी होने और उसे नीचा दिखाने का प्‍लान बनाता है. लेकिन अनुपमा पहले से ही वनराज को जवाब देने का फैसला कर चुकी है. क्या वनराज अनुपमा पर हावी होने में सफल होंगे? क्या अनुपमा वनराज के लिए व्रत रखेंगी? यह तो आनेवाले एपिसोड में ही पता चल पाएगा.

अब अनपुमा ड्राईविंग सीखने का मन बना चुकी है. जिस दिन बाबूजी को हार्ट अटैक आया था, उस दिन वनराज काव्‍या के घर पर था. ले‍किन उसे इस बात से ज्‍यादा दुख इस चीज का है कि उसे ड्राईविंग नहीं आती. अगर उसे ड्राईविंग आती तो उसे बाबूजी को हॉस्पिटल जाने में किसी के ऊपर निर्भर नहीं रहना पड़ता. वह ड्राईविंग सीखने का फैसला करती है. लेकिन अनुपमा उससे कहता है कि उसका काम सिर्फ किचन में काम करना है, ड्राईविंग सीखना उसके बस की बात नहीं है.

अनुपमा ने बा को कहती है कि उसे वनराज की अनुपस्थिति में मुश्किल समय का सामना करना पड़ा और वह बाबूजी के लिए ड्राइविंग सीखना चाहती है. इस बार बा, अनुपमा का समर्थन करेगी, वनराज का नहीं. बा वनराज को अनुपमा को नियंत्रित करने से भी रोकेगी क्योंकि अनुपमा ने ही बाबूजी की जान बचाई थी जब वनराज घर पर नहीं था. बा को अभी पता नहीं है कि वनराज उस दिन ऑफिस के काम से नहीं बल्कि काव्‍या के साथ उसके घर पर था. अब वनराज क्‍या करेगा यह देखना दिलचस्‍प होगा.

आपने देखा कि, बाबूजी के अस्‍पताल में भर्ती होने के दौरान अनुपमा वनराज को बुलाने के लिए काव्‍या के घर पहुंचती है. वनराज उसे दरवाजे पर देखकर उसे नीचा दिखाता है. अनुपमा कहती है कि वह बाबूजी के लिए उसे लेने आई है. वनराज भागता हुआ अस्‍पताल पहुंचता है. बाबूजी की हालत देखकर अनुपमा से कहता है कि अगर बाबूजी को कुछ हुआ तो इसकी जिम्मेदार तुम होगी. तभी डॉक्टर बताते है कि हंसमुख भाई खतरे से बाहर है और ये सब सिर्फ अनुपमा के कारण हुआ. उसने सही समय पर ऑपरेशन का फैसला लिया था.

Posted By : Budhmani Minj

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें