29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Rahul Gandhi: ‘जनता को क्यों दी निवेश की सलाह’, राहुल गांधी के आरोपों का पीयूष गोयल ने दिया जवाब

Rahul Gandhi: प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल गांधी ने सवाल उठाए हैं. राहुल गांधी ने कहा कि पहली बार हमने देखा है कि चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री ने शेयर बाजार पर टिप्पणी की.

Rahul Gandhi: 18वीं लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद एनडीए को पूर्ण बहुमत मिला है. 9 जून को नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने वाले हैं. इधर कांग्रेस का हमला भी जारी है. इसी कड़ी में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक पीसी की जिसमें उन्होंने निवर्तमान पीएम मोदी पर जमकर हमला किया. राहुल गांधी ने कहा कि चुनाव के समय नरेंद्र मोदी ने शेयर बाजार पर कमेंट किया था, राहुल गांधी ने सवाल करते हुए पूछा की उन्होंने जनता को निवेश की सलाह क्यों दी थी. गौरतलब है कि चुनाव के बाद शेयर बाजार धड़ाम हो गया था. इसको लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल गांधी ने सवाल उठाए हैं. राहुल गांधी ने कहा कि पहली बार हमने देखा है कि चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री ने शेयर बाजार पर टिप्पणी की.

राहुल गांधी ने किया हमला
राहुल गांधी ने पीसी में कहा कि यह अडानी मुद्दे से कहीं अधिक व्यापक मुद्दा है. यह अडानी मुद्दे से भी जुड़ा है, लेकिन यह बहुत व्यापक मुद्दा है. उन्होंने आरोप लगाया की इसकी जानकारी सीधे तौर पर प्रधानमंत्री, केंद्रीय गृह मंत्री को है. वास्तविक चुनाव परिणामों पर डेटा, जिनके पास आईबी रिपोर्ट है, जिनके पास अपना डेटा है, जो खुदरा निवेशकों को स्टॉक खरीदने की सलाह दे रहे हैं, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ है प्रधानमंत्री ने एक के बाद एक कई बार बड़ी दिलचस्प टिप्पणी करते हुए कहा है कि शेयर बाजार में तेजी आने वाली है, साथ ही उन्हें जानकारी है कि एग्जिट पोल गलत हैं ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उनके पास आईबी डेटा है और उनकी अपनी पार्टी का डेटा भी है.

संयुक्त संसदीय समिति से जांच की मांग
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री ने शेयर बाजार में निवेश करने वाले पांच करोड़ परिवारों को विशेष निवेश सलाह क्यों दी? क्या निवेश सलाह देना उनका काम है? दोनों साक्षात्कार एक ही मीडिया को क्यों दिए गए जिसके मालिक हैं वही कारोबारी समूह जो स्टॉक में हेराफेरी के लिए सेबी की जांच के दायरे में है. बीजेपी, फर्जी एग्जिट पोल करने वालों और संदिग्ध विदेशी निवेशकों के बीच क्या संबंध है, जिन्होंने एग्जिट पोल की घोषणा से एक दिन पहले निवेश किया और भारी मुनाफा कमाया? पांच करोड़ वेतन? हम इसमें जेपीसी की मांग करते हैं. हमें विश्वास है कि किसी ने भारतीय खुदरा निवेशकों की कीमत पर हजारों करोड़ रुपये कमाए हैं और प्रधान मंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री ने इसे खरीदने का संकेत दिया है. इसलिए हम आज इसकी जांच के लिए एक संयुक्त संसदीय समिति की मांग करते हैं.

बीजेपी ने किया पलटवार
राहुल गांधी के सवाल पर बीजेपी नेता पीयूष गोयल ने जवाबी हमला किया है. उन्होंने हमला करते हुए कहा कि राहुल गांधी निवेशकों को गुमराह करने की साजिश रच रहे हैं. जबकि प्रधानमंत्री मोदी भारत को तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के लिए काम कर रहे हैं. उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि देश का बाजार पूंजीकरण यूपी शासनकाल में 67 लाख करोड़ रुपये था, जो बढ़कर 415 लाख करोड़ रुपये हो चुका है, इससे घरेलू, खुदरा निवेशकों को सबसे ज्यादा लाभ हुआ. वहीं शेयर बाजार को लेकर राहुल गांधी को जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि एग्जिट पोल के बाद विदेशी निवेशकों ने ऊंचे भाव पर शेयर खरीदे, जबकि भारतीय निवेशकों ने शेयर बेचकर मुनाफा कमाया.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें