1. home Home
  2. business
  3. when will international flights start in the country know civil aviation minister hardeep singh puri what said

देश में अंतरराष्ट्रीय उड़ानें कब होंगी शुरू? जानिए नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने क्या कहा...

देश में कोविड-19 महामारी (Covid19 pandemic) का प्रकोप (Spread) बढ़ने से बीते 22 मार्च से ही बंद अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को दोबारा शुरू होने में फिलहाल संशय बरकार है. हालांकि, विदेश में फंसे भारतीयों को स्वदेश वापसी के लिए सरकार की ओर से वंदे मारतम योजना के तहत सीमित संख्या में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को शुरू किया गया है, लेकिन सामान्य तरीके से आम लोगों की विदेश से आवाजाही के लिए अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू होने की फिलहाल कोई संभावना नजर नहीं आ रही है. शनिवार को नागरिक उड्डयन मंत्री ने इस बात के संकेत दिए हैं कि भारत सरकार करीब-करीब अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू करने के लिए तैयार है, लेकिन यह दूसरे देशों पर निर्भर करता है कि वे इसे कब शुरू करेंगे.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी.
नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी.
फोटो : ट्विटर.

नयी दिल्ली : देश में कोविड-19 महामारी (Covid19 pandemic) का प्रकोप (Spread) बढ़ने से बीते 22 मार्च से ही बंद अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को दोबारा शुरू होने में फिलहाल संशय बरकार है. हालांकि, विदेश में फंसे भारतीयों को स्वदेश वापसी के लिए सरकार की ओर से वंदे मारतम योजना के तहत सीमित संख्या में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को शुरू किया गया है, लेकिन सामान्य तरीके से आम लोगों की विदेश से आवाजाही के लिए अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू होने की फिलहाल कोई संभावना नजर नहीं आ रही है. शनिवार को नागरिक उड्डयन मंत्री ने इस बात के संकेत दिए हैं कि भारत सरकार करीब-करीब अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू करने के लिए तैयार है, लेकिन यह दूसरे देशों पर निर्भर करता है कि वे इसे कब शुरू करेंगे.

उड्डयन मंत्री पुरी ने कहा कि अभी किसी भी देश ने अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू नहीं की है. हम कब अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करेंगे, यह दूसरे देशों पर निर्भर करेगा. जब वे अपने यहां अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को आने की अनुमति देंगे, तो इन्हें शुरू कर दिया जाएगा. जब तक ऐसा नहीं होता है, तब तक हमारे पास कोई विकल्प नहीं है. तब तक हम विदेशों में फंसे भारतीयों की स्वदेश वापसी के लिए सीमित उड़ानें जारी रखेंगे. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान विदेशों में फंसे 2,75,000 भारतीयों को विमानों और जहाजों के जरिये स्वदेश लाया गया है.

उधर, नागरिक उड्डयन सचिव प्रदीप सिंह खरोला ने कहा कि अगर अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को शुरू किया जाना है, तो इसके लिए दोनों पक्षों की सहमति होनी चाहिए और ट्रैफिक भी होना चाहिए. भारत और उत्तर अमेरिका महाद्वीप के बीच अच्छा खासा ट्रैफिक है. हम केस टु केस के आधार पर उड़ान शुरू करने पर विचार कर सकते हैं.

गौरतलब है कि भारत ने कोविड-19 महामारी के प्रकोप को रोकने के लिए 22 मार्च को अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया था. इसके बाद घरेलू उड़ानों पर भी रोक लगायी गयी थी. हालांकि, कुछ सीमित मार्गों पर घरेलू उड़ानों को 25 मई से इजाजत दे दी गयी, लेकिन अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध अब भी जारी है.

बता दें कि देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 4 लाख के करीब पहुंच गयी है. दुनियाभर में करीब 88 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं, जिनमें से 4 लाख 63 हजार से अधिक की मौत हो चुकी है. कोरोना प्रभावित देशों में अमेरिका पहले, ब्राजील दूसरे, रूस तीसरे और भारत चौथे स्थान पर है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें