1. home Hindi News
  2. business
  3. what your debit and credit card be valid india after rbis ban on mastercard read full story here

मास्टरकार्ड पर RBI की रोक के बाद क्या भारत में मान्य रहेगा आपका डेबिट और क्रेडिट कार्ड? यहां पढ़ें पूरी डिटेल

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मास्टरकार्ड पर आरबीआई की कार्रवाई.
मास्टरकार्ड पर आरबीआई की कार्रवाई.
फाइल फोटो.

Debit Card-Credit Card News : आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) ने बुधवार को मास्टरकार्ड एशिया या पैसिफिक पीटीई लिमिटेड पर अपने नेटवर्क के जरिए नए घरेलू ग्राहकों को शामिल किए जाने के मद्देनजर रोक लगा दी है. केंद्रीय बैंक ने बुधवार को जारी एक बयान में कहा है कि मास्टरकार्ड पर यह रोक आगामी 22 जुलाई 2021 से प्रभावी हो जाएगी. आरबीआई ने कहा कि मास्टरकार्ड ने भारत में पेमेंट डेटा स्टोर करने के लिए फॉरेन कार्ड नेटवर्क के लिए आवश्यक नियमों का पालन नहीं किया है.

केंद्रीय बैंक की ओर से जारी नोटिफिकेशन में इस बात का जिक्र किया गया है कि आरबीआई ने आज मास्टरकार्ड एशिया या पैसिफिक पीटीई लिमिटेड पर प्रतिबंध लगा दिया है. इस प्रतिबंध के बाद मास्टरकार्ड 22 जुलाई 2021 से नए ग्राहकों को डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या प्रीपेड कार्ड जारी नहीं कर सकेगी. नोटिफिकेशन में कहा गया है कि मास्टरकार्ड कार्ड जारी करने वाले सभी बैंकों और गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थानों को इन निर्देशों का पालन करने की सलाह देगी.

बैंकों के लिए क्या हैं मायने?

आरबीआई ने 22 जुलाई से नए ग्राहकों को मास्टर कार्ड के डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और प्रीपेड कार्ड जारी करने पर रोक लगा दी है. मास्टर कार्ड ने एचडीएफसी बैंक, येस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, आरबीएल बैंक समेत निजी क्षेत्र के कई बैंकों के साथ डेबिट और क्रेडिट कार्ड के लिए समझौता किया हुआ है. इसलिए अब कोई भी बैंक अब मास्टरकार्ड नेटवर्क के जरिए नए ग्राहकों को नया कार्ड जारी नहीं कर पाएंगे. आरबीआई के आदेश के बाद आरबीएल ने कहा कि आरबीआई की इस कार्रवाई के बाद हम मास्टरकार्ड की ओर से और जानकारी की प्रतीक्षा कर रहे हैं. फिलहाल, आरबीएल बैंक केवल मास्टरकार्ड नेटवर्क पर क्रेडिट कार्ड जारी करता है.

क्या भारत में मास्टरकार्ड का डेबिट और क्रेडिट कार्ड मान्य होगा?

लंदन आधारित पेमेंट पीपीआरओ की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, मास्टरकार्ड पेमेंट एंड सेटलमेंट एक्ट के तहत देश में पेमेंट सिस्टम के लिए अपने नेटवर्क के जरिए कार्ड जारी करने के लिए अधिकृत किया गया है. वर्ष 2019 तक मास्टरकार्ड ने भारत में तमाम पेमेंट कार्ड्स में से करीब 30 फीसदी तक अपने नेटवर्क के जरिए कार्ड जारी किए हैं. ऐसे में सवाल पैदा होता है कि बैंक के नए आदेश के बाद भारत में पहले से जारी डेबिट और क्रेडिट कार्ड मान्य रहेगा?

पहले से जारी कार्डों पर नहीं पड़ेगा आदेश का असर

अब अगर आप मास्टरकार्ड के डेबिट और क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. आरबीआई की ओर से की गई कार्रवाई के बाद देश में पहले से इस्तेमाल किए जा रहे मास्टरकार्ड के डेबिट या क्रेडिट कार्ड पर किसी प्रकार का प्रभाव नहीं पड़ेगा. बैंकिंग नियामक ने इस बात का जिक्र किया है कि मास्टरकार्ड के पहले के ग्राहकों पर इस आदेश का प्रभाव नहीं पड़ेगा. इसका मतलब यह कि मास्टरकार्ड की ओर से जारी कोई भी कार्ड निष्प्रभावी नहीं होंगे.

Posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें