24.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

HomeदेशShare Market: उठा-पटक के बीच हरे निशान के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स 178 अंक चढ़ा, निफ्टी 21,710...

Share Market: उठा-पटक के बीच हरे निशान के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स 178 अंक चढ़ा, निफ्टी 21,710 के पार

Share Market Closing Bell: भारतीय शेयर बाजार में पूरे दिन उठा पटक का दौर जारी रहा. हालांकि, बाजार बंद होने तक सेंसेक्स 178 अंक चढ़कर 72,026 पर बंद हुआ.

Share Market Closing Bell: Share Market Closing Bell: भारतीय शेयर बाजार में पूरे दिन उठा पटक का दौर जारी रहा. हालांकि, बाजार बंद होने तक बीएसई सेंसेक्स 178.58 अंक की बढ़त के साथ 72,026.15 और एनएसई निफ्टी 52.20 अंक मजबूत होकर 21,710.80 अंक पर बंद हुआ. आज बाजार में मिडकैप और स्मॉलकैप की रिकॉर्ड क्लोजिंग हुई. जबकि, रियल्टी इंडेक्स 52 सप्ताह के ऊपरी स्तर पर बंद हुआ. Adani Ports, L&T, TCS, SBI Life Insurance और LTIMindtree निफ्टी का टॉप गेनर रहा. वहीं Nestle India, Britannia Industries, UPL, JSW Steel और Kotak Mahindra Bank निफ्टी का टॉप लूजर रहा.

Also Read: Share Market पर छाया है लीप ईयर का खौफ! जानें साल 2024 को लेकर क्यों डर रहे निवेशक

रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड के वरिष्ठ उपाध्यक्ष (तकनीकी अनुसंधान) अजीत मिश्रा ने कहा कि मिले-जुले रुख के बीच बाजार में उतार-चढ़ाव रहा और अंत में यह मामूली बढ़त के साथ बंद हुआ. शुरुआती बढ़त के बाद निफ्टी धीरे-धीरे नीचे चला गया और अंत तक एक सीमित दायरे में कारोबार करता रहा. उन्होंने कहा कि इस बीच क्षेत्री को देखा जाए तो मिश्रित रुख जारी रहा. इसमें आईटी क्षेत्र की प्रमुख कंपनियों में सुधार और चुनिंदा दिग्गज कंपनियों में लिवाली देखी गयी. अधिक शेयरों को प्रतिनिधित्व करने वाले सूचकांक एक और सत्र में बढ़त हासिल करने में कामयाब रहे. सेंसेक्स की कंपनियों में लार्सन एंड टुब्रो, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, इंफोसिस, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और विप्रो के शेयर लाभ में रहे. दूसरी तरफ, नेस्ले इंडिया, एशियन पेंट्स, जेएसडब्ल्यू स्टील, कोटक महिंद्रा बैंक और एचडीएफसी बैंक के शेयरों में गिरावट रही. अधिक शेयरों का प्रतिनिधित्व करने वाले बीएसई स्मॉलकैप सूचकांक 0.61 प्रतिशत चढ़ गया और मिडकैप सूचकांक 0.19 प्रतिशत बढ़ा.

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि निवेशक आज यूरो क्षेत्र के मुद्रास्फीति के आंकड़ों से पहले सतर्क रहे. घरेलू मोर्चे पर तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) के परिणाम आने वाले हैं. और अगर ये मूल्यांकन के अनुसार नहीं रहे तो इससे निवेशकों के उत्साह पर असर पड़ सकता है. एक मासिक सर्वेक्षण के अनुसार देश में सेवा क्षेत्र की गतिविधियां अनुकूल आर्थिक परिस्थितियों और सकारात्मक मांग के दम पर दिसंबर में तीन महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई. मौसमी रूप से समायोजित एचएसबीसी इंडिया भारत सेवा पीएमआई कारोबारी गतिविधि सूचकांक दिसंबर में 59 पर पुहंच गया. यह नवंबर में 56.9 पर था. यह उत्पादन में तीव्र वृद्धि को दर्शाता है जो सितंबर के बाद से सबसे अधिक है. सेंसेक्स बृहस्पतिवार को 490.97 अंक और निफ्टी 141.25 अंक मजबूत हुए थे.

एशियाई के अन्य बाजारों में जापान का निक्की फायदे में, जबकि दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कम्पोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान के साथ बंद हुए. यूरोपीय बाजार शुरुआती कारोबार नुकसान में रहे. अमेरिकी बाजार बृहस्पतिवार को नकारात्मक रुख के साथ बंद हुए थे. इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.94 प्रतिशत की बढ़त के साथ 78.32 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बृहस्पतिवार को 1,513.41 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें