22.1 C
Ranchi
Sunday, February 25, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

HomeदेशShare Market: साल के आखिरी कारोबारी दिन धड़ाम से गिरा शेयर बाजार, सेंसेक्स 200 टूटा,निफ्टी भी लाल निशान पर...

Share Market: साल के आखिरी कारोबारी दिन धड़ाम से गिरा शेयर बाजार, सेंसेक्स 200 टूटा,निफ्टी भी लाल निशान पर बंद

Share Market Closing Bell: बाजार बंद होने के वक्त तक सेंसेक्स 0.28 प्रतिशत यानी 204 अंक टूटकर 72,206.35 पर बंद हुआ. जबकि, निफ्टी 0.24 प्रतिशत यानी 52.25 अंक टूटकर 21,726.45 पर बंद हुआ.

Share Market Closing Bell: भारतीय शेयर बाजार में साल के आखिरी कारोबारी दिन, बाजार धड़ाम से गिर गया. सुबह बाजार की शुरूआत टूटकर हुई. इसके बाद, पूरे दिन बाजार में सुस्ती नजर आयी. बाजार बंद होने के वक्त तक सेंसेक्स 0.28 प्रतिशत यानी 204 अंक टूटकर 72,206.35 पर बंद हुआ. जबकि, निफ्टी 0.24 प्रतिशत यानी 52.25 अंक टूटकर 21,726.45 पर बंद हुआ. आज बाजार में मिडकैप, स्मॉलकैप शेयरों में खरीदारी रही. जबकि मिडकैप इंडेक्स रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुआ. इसके साथ ही, ऑटो , FMCG, रियल्टी, मेटल शेयरों में भी खरीदारी रही. पूरे दिन एनर्जी, PSU, PSE, IT शेयरों पर दबाव देखने को मिला. सेंसेक्स कंपनियों में कोटक महिंद्रा बैंक, टाइटन, भारतीय स्टेट बैंक, पावर ग्रिड, रिलायंस इंडस्ट्रीज, इंफोसिस और एनटीपीसी के शेयर नुकसान में रहे. वहीं टाटा मोटर्स, मारुति, सन फार्मा, बजाज फिनसर्व और आईटीसी के शेयरों को लाभ हुआ.

Also Read: Year Ender 2023: इस साल आईपीओ ने निवेशकों को दिया जबरदस्त रिटर्न, इन 5 कंपनियों ने जमा किया सबसे ज्यादा पैसा

एक साल में 20 प्रतिशत चढ़ा बाजार

घरेलू शेयर बाजारों के प्रमुख सूचकांकों- सेंसेक्स और निफ्टी में 2023 के दौरान करीब 20 प्रतिशत की तेजी रही. हालांकि साल के अंतिम कारोबारी दिन शुक्रवार को निवेशकों ने मुनाफा वसूली पर जोर दिया और बाजार गिरावट के साथ बंद हुए. कारोबारियों ने कहा कि पिछले पांच कारोबारी सत्रों में तेजी रहने के बाद शुक्रवार को ऊर्जा, बैंकिंग और आईटी शेयरों में बिकवाली का दबाव रहा. साल के अंतिम कारोबारी सत्र में सेंसेक्स की 30 कंपनियों में से अधिकांश नुकसान में रहीं. भारतीय स्टेट बैंक, इंफोसिस, टाइटन, टेक महिंद्रा, इंडसइंड बैंक, एनटीपीसी, आईसीआईसीआई बैंक, पावर ग्रिड, रिलायंस इंडस्ट्रीज और कोटक महिंद्रा बैंक गिरने वाले प्रमुख शेयरों में शामिल थे. दूसरी ओर टाटा मोटर्स, नेस्ले, हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाटा स्टील, बजाज फाइनेंस और अल्ट्राटेक सीमेंट में बढ़त हुई. जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि साल के आखिरी कारोबारी दिन बाजार में हल्की मुनाफावसूली हुई. ब्याज दरों में कटौती और बॉन्ड प्रतिफल में गिरावट के कारण अगले साल की शुरुआत में बाजार का उत्साह जारी रहने की उम्मीद है. दूसरी ओर तेल की कीमतों में इस साल 10 प्रतिशत की गिरावट हुई, जिससे मुद्रास्फीति का दबाव कम हो सकता है. उन्होंने कहा कि मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों पर छोटी से मध्यम अवधि में पूर्वानुमान नरमी का है, लेकिन बड़े शेयर मजबूत आय वृद्धि और प्रीमियम मूल्यांकन जारी रहने की उम्मीद में तेजी बनाए रखेंगे.

एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की नुकसान में रहा, जबकि चीन का शंघाई कम्पोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहे. दक्षिण कोरिया में बाजार बंद रहे. यूरोपीय बाजार तेजी के साथ कारोबार कर रहे थे, जबकि बृहस्पतिवार को अमेरिकी बाजार मिलेजुले रुख के साथ बंद हुए. एक दिन पहले बृहस्पतिवार को सेंसेक्स 371.95 अंक उछलकर 72,410.38 के सर्वकालिक उच्च स्तर पर बंद हुआ था. निफ्टी भी 123.95 अंक चढ़कर 21,778.70 के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ था. वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.86 प्रतिशत चढ़कर 77.81 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल के भाव पर था. शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बृहस्पतिवार को शुद्ध रूप से 4,358.99 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें