27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

रिलायंस और इन्फोसिस की लिवाली ने बाजार को संभाला, सेंसेक्स में 267 अंकों की बढ़त

Stock Market: जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक का ब्योरा जारी होने से पहले भारतीय बाजार में सकारात्मक रुख देखने को मिला. निवेशक कंपनियों की चौथी तिमाही के परिणाम और चुनाव को लेकर अनिश्चितता कम होने से आशान्वित हैं.

Stock Market: घरेलू शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव और गिरावट के दौर को रिलायंस इंडस्ट्रीज और इन्फोसिस जैसी कंपनियों के शेयरों की लिवाली ने सभाल लिया है. इन कंपनियों के शेयरों में लिवाली से बुधवार को शेयर बाजार में तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स 267 अंक से अधिक के लाभ में रहा. 30 शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 267.75 अंक यानी 0.36 फीसदी की बढ़त के साथ 74,221.06 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान एक समय यह 354.48 अंक तक उछल गया था. बीएसई सेंसेक्स में मंगलवार को 52.63 की गिरावट रही थी, जबकि एनएसई निफ्टी 27.05 अंक बढ़त में रहा था. वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 68.75 अंक यानी 0.31 फीसदी की बढ़त के साथ 22,597.80 अंक पर बंद हुआ.

इन शेयरों में रही तेजी

सेंसेक्स के शेयरों में हिंदुस्तान यूनिलीवर, रिलायंस इंडस्ट्रीज, इन्फोसिस, एशियन पेंट्स, आईटीसी और अल्ट्राटेक सीमेंट प्रमुख रूप से लाभ में रहे. वहीं दूसरी तरफ, नुकसान में रहने वाले शेयरों में भारतीय स्टेट बैंक, जेएसडब्ल्यू स्टील, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, टाटा स्टील तथा टाटा मोटर्स शामिल हैं.

दूसरे बाजारों का कैसा रहा हाल

एशिया के अन्य बाजारों में चीन का शंघाई कम्पोजिट बढ़त में रहा, जबकि दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहा. यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर के कारोबार में गिरावट का रुख था. अमेरिकी बाजार वॉल स्ट्रीट मंगलवार को बढ़त में रहा. वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.84 प्रतिशत की गिरावट के साथ 82.18 डॉलर प्रति बैरल रहा. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 1,874.54 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे.

पोस्ट ऑफिस के RD स्कीम पर तगड़ा ब्याज, 3000 के निवेश पर बंपर रिटर्न

फेडरल रिजर्व का ब्योरा जारी होने से पहले बाजार में तेजी

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक का ब्योरा जारी होने से पहले भारतीय बाजार में सकारात्मक रुख देखने को मिला. निवेशक कंपनियों की चौथी तिमाही के परिणाम और चुनाव को लेकर अनिश्चितता कम होने से आशान्वित हैं. उन्होंने कहा कि मानसून के जल्दी आने की उम्मीद से दैनिक उपभोग का सामान बनाने वाली कंपनियों (एफएमसीजी) को लेकर रुचि बढ़ी है. हालांकि, बाजार का प्रदर्शन अल्पकाल में हल्का रह सकता है, क्योंकि उसे चुनाव के परिणाम का इंतजार है. एफआईआई बाजार से दूरी बनाए हुए हैं.

बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप पहली बार पांच लाख करोड़ डॉलर के पार

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें