1. home Hindi News
  2. business
  3. india latest business finance investments and small savings scheme news updates know how much interest lost due to govt policy smb

Small Savings Scheme: छोटी बचत योजनाओं के जरिए निवेश करने वालों को मिली मायूसी, सरकार ने ब्याज दर घटाने का फैसला किया

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Small Savings Scheme
Small Savings Scheme
Prabhat Khabar

Small Savings छोटी बचत योजनाओं के जरिए निवेश करने वाले निवेशकों को मायूसी मिली है. दरअसल, केंद्र सरकार ने बुधवार को छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर घटाने का फैसला किया है. वित्त मंत्रालय द्वारा जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक, छोटी योजनाओं पर ब्याज दर 1.10 फीसदी तक घटाई गई हैं और नई दरें 1 अप्रैल 2021 से लागू हो जाएंगी.

सरकार के इस फैसले से पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) के जरिए निवेश करने वालों को निराशा हाथ लगी है. पीपीएफ के ब्याज दर में 70 बेसिस प्वाइंट की कमी की गई है. अभी तक इस पर 7.1 फीसदी का सालाना ब्याज मिल रहा था, जो कि अब घटा कर 6.4 फीसदी कर दिया गया है. इसी तरह पांच साल की नेशनल सेविंग स्कीम पर मिलने वाली ब्याज दर में 90 बेसिस प्वाइंट की कमी हुई है. पहले इस पर 6.8 फीसदी का ब्याज मिलता था. अब यह घट कर 5.9 फीसदी रह गया है.

वहीं, सुकन्या समृद्धि योजना में भी ब्याज दर में भारी कटौती हुई है. बालिका की शिक्षा और उसकी शादी के लिए शुरू की गई इस महत्वकांक्षी योजना में अभी तब 7.6 फीसदी सलाना का ब्याज मिलता था. अब इसे घटा कर 6.9 फीसदी कर दिया गया है. इसमें भी 70 बेसिस प्वाइंट की कटौती की गई है. जबकि, एक साल वाले टाइम डिपॉजिट में पहले 5.5 फीसदी का ब्याज मिलता था, जिसे घटा कर अब 4.4 फीसदी कर दिया गया है. साथ ही दो साल वाले टाइम डिपॉजिट में अब 5.5 फीसदी के बजाए 5.0 फीसदी, तीन साल वाले टाइम डिपॉजिट पर 5.5 फीसदी के बजाए 5.1 फीसदी, पांच साल वाले टाइम डिपॉजिट पर 6.7 फीसदी क बजाए 5.8 फीसदी और पांच साल वाले रिकरिंग डिपॉजिट पर अब 5.8 फीसदी के बजाए 5.3 फीसदी का ब्याज मिलेगा.

इधर, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम पर अभी तक 7.4 फीसदी का ब्याज मिला करता था. इसे घटा कर 6.5 फीसदी कर दिया गया है. वहीं, मंथली इनकम अकाउंट पर भी अब 6.6 फीसदी के बजाए 5.7 फीसदी का ब्याज मिलेगा. किसान विकास पत्र में भी ब्याज दर घटा दिया गया है. पहले इस योजना में 6.9 फीसदी का ब्याज मिलता था, जबकि इसकी मैच्योरिटी अवधि 124 महीने की थी. अब इसमें 6.2 फीसदी का ही ब्याज मिलेगा जबकि इसकी मैच्योरिटी अवधि 138 महीने कर दी गई है. वहीं, सरकार ने अब सेविंग बैंक अकाउंट पर ब्याज दर 4.0 फीसदी से घटा कर 3.5 फीसदी कर दिया है.

Upload By Samir

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें