IEA ने कहा, ओपेक और सहयोगी देशों की क्रूड ऑयल प्रोडक्शन में कटौती के बावजूद बाजार में असंतुलन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पेरिस : प्रमुख कच्चा तेल उत्पादक देशों के समूह ओपेक तथा इसके सहयोगी देशों की उत्पादन में अतिरिक्त कटौती के बावजूद भी यह वैश्विक बाजार में कच्चा तेल के भंडार को कम करने में अपर्याप्त साबित होगी. अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी (आईईए) ने गुरुवार को यह चेतावनी दी. ओपेक तथा अन्य सहयोगी देश पिछले सप्ताह शुक्रवार को कच्चा तेल उत्पादन में रोजाना पांच लाख बैरल की कटौती करने पर सहमत हुए.

ओपेक के सबसे बड़े उत्पादक सऊदी अरब ने स्वेच्छा से दैनिक उत्पादन में चार लाख बैरल की कटौती की इच्छा प्रकट की. हालांकि, आईईए का कहना है कि इनमें से अधिकांश कटौती पहले ही की जा चुकी है. आईईए के ताजा आकलन के अनुसार, नये समझौते के बाद कच्चा तेल के दैनिक उत्पादन में नवंबर के स्तर की तुलना में पांच लाख 30 हजार बैरल की कमी आयेगी.

उसने कहा कि यदि संबंधित पक्ष कड़ाई से कटौती का पालन करते हैं, तब भी अगले साल के पहले छह महीने के दौरान कच्चा तेल का काफी मजबूत भंडार मौजूद रहेगा. एजेंसी ने अगले साल कच्चा तेल की दैनिक मांग का पूर्वानुमान एक लाख बैरल घटाकर 1,015 लाख बैरल कर दिया. यह कटौती मुख्यत: औद्योगिक गतिविधियों वाले देशों से मांग में कमी को लेकर की गयी भविष्यवाणी पर निर्भर है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें