1. home Home
  2. world
  3. who on new corona variant found in south africa still not cases of omicron in india amh

Coronavirus Updates : सावधान! गंभीर रोगों का कारण बन सकता है कोरोना का नया स्‍वरूप ओमिक्रोन

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस का नया वेरिएंट ओमिक्रोन मिलने के बाद पूरी दुनिया अलर्ट पर है. कोरोना का नया स्‍वरूप ओमिक्रोन गंभीर रोगों का कारण बन सकता है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोरोना वायरस का नया वेरिएंट
कोरोना वायरस का नया वेरिएंट
pti

Omicron Updates : दक्षिण अफ्रीका में कोरोना संक्रमण के मामलों के हुई बढ़ोतरी में शेवाने यूनिवर्सिटी (टीयूटी) ऑफ टेक्नोलॉजी एक ‘हॉटस्पॉट' के तौर उभरा है. यहां कई छात्र संक्रमित पाये गए हैं और यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कुछ परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं. इस बीच विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) ने कहा है कि कोरोना का नया स्‍वरूप ओमिक्रोन (Omicron) ट्रांसमिसेबल है या नहीं अभी इस बारे में जानकारी नहीं एकत्रित हो पाई है. यह गंभीर रोगों का कारण बन सकता है. संगठन ने दक्षिण अफ्रीकी देशों से यात्री प्रतिबंध की निंदा की है और कहा है कि लोगों की आजीविका पर इसका असर पड़ेगा.

जानकारी जुटा रहे हैं वैज्ञानिक

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन यानी डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि इसके लक्षण अभी तक मिले वैरिएंट से कितने अलग हैं इस बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है. यही वजह है कि इस वेरिएंट के संभावित खतरे को लेकर सावधानी बरतने की जरूरत है. वैज्ञानिकों का कहना है कि दुनिया के तमाम देश ओमिक्रोन पर ज्यादा से ज्‍यादा जानकारी जुटाने में लगे हुए हैं. डब्ल्यूएचओ भी उनके साथ मिलकर काम कर रहा है. यही वजह है कि जब तक सभी चीजें स्पष्ट नहीं हो जातीं, तब तक यह स्‍पष्‍ट नहीं कहा जा सकता है कि कोविड का यह नया वेरिएंट कितना ज्यादा खतरनाक और संक्रामक है.

कोरोना संक्रमित हो चुके लोगों को ज्यादा खतरा

विश्व स्वास्थ्य संगठन की मानें तो प्रारंभिक जो चीजें सामने आ रहीं हैं उसके अनुसार जिन लोगों को पहले कोरोना संक्रमण हो चुका है, उन्हें ज्यादा ही बचाव करने की जरूरत है. ऐसा इसलिए क्योंकि नये वैरिएंट में तेजी से म्यूटेशन हो रहे हैं.यह पहले कोरोना संक्रमित हो चुके लोगों में तेजी से फैल सकता है.

ब्रिटेन में कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन मिला

ब्रिटेन में कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन मिला है. अब यहां चेहरे पर मास्क जरूरी कर दिया गया है. कनाडा के दो नागरिकों में कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट की पुष्टि हुई है. इधर ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, ईरान, जापान, थाईलैंड, अमेरिका और यूरोपीय संघ ने ओमिक्रोन के मद्देनजर सख्त पाबंदी लगा दी है.

ब्रिटेन ने कई देशों को रेड लिस्ट में डाला

ब्रिटेन ने बोत्सवाना, इस्वातिनी (पूर्व में स्वाजीलैंड), लेसेथो, नामीबिया, दक्षिण अफ्रीका और जिम्बाब्वे के अलावा रविवार से अंगोला, मालावी, मोजाम्बिक और जाम्बिया को भी लाल सूची में डालने का फैसला किया है. यहां से आने वाले लोगों को कोरेंटिन रहना होगा.

विदेश से आने वाले सभी इस्राइलियों के लिए कोरेंटिन अनिवार्य

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस का नया वैरिएंट ओमिक्रोन मिलने के बाद पूरी दुनिया अलर्ट पर है. कोरोना के सबसे अधिक संक्रामक वैरिएंट ‘ओमिक्रोन’ ने कई और यूरोपीय देशों को अपनी चपेट में ले लिया है. रविवार को ब्रिटेन, जर्मनी, इटली, बेल्जियम, हांगकांग, इस्राइल और ऑस्ट्रेलिया में इस खतरनाक वैरिएंट के मामले सामने आये हैं. इसके बाद ब्रिटेन समेत कई देशों में सख्त पाबंदियां लगा दी गयी हैं. ब्रिटेन ने ओमिक्रोन से संक्रमित तीन मरीजों के मिलने के बाद मास्क पहनने और अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के आगमन संबंधी नियमों को सख्त कर दिया है.

वैक्‍सीन कंपनियां भी अलर्ट

एस्ट्राजेनेका, मॉडर्ना, नोवावैक्स, फाइजर सहित तमाम दवा कंपनियों ने कहा कि ओमिक्रोन के सामने आने के बाद वे अपने वैक्‍सीन को उसका मुकाबला करने के लिए परिवर्तित करने का प्रयास कर रहे हैं. ये वैक्‍सीन 100 दिन में तैयार होने की उम्मीद है. मॉडर्ना वैक्सीन के चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर पॉल बर्टन ने ओमिक्रोन को खतरनाक बताया है. उन्होंने कहा कि हम वैक्सीन को अपडेट कर रहे हैं.

एक नजर अब तक के ताजा अपडेट पर

-ब्रिटेन, जर्मनी, इटली समेत पश्चिमी देशों में मिला खतरनाक वैरिएंट

-यूरोप के कई देशों में फैला ओमिक्रोन, ब्रिटेन में सार्वजनिक परिवहन में बिना मास्क यात्रा नहीं

-दक्षिण अफ्रीका की युवा आबादी में तेजी से फैल रहा संक्रमण, पर लॉकडाउन का विरोध

-इस्राइल ने यात्रा प्रतिबंधों को और कड़ा किया, विदेशियों के देश में प्रवेश पर लगी रोक

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें