1. home Hindi News
  2. world
  3. us capitol violence ivanka trump deletes tweet calling pro trump rioters patriots know full details here america hinsa amh

ट्रंप की बेटी इवांका ने हिंसक समर्थकों को कह दिया देशभक्त, जानें क्या हुआ इसके बाद

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
us capitol violence
us capitol violence

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यकाल के अंतिम दिनों में अमेरिका ने एक बार फिर हिंसा भड़क चुकी है. वाशिंगटन स्थित कैपिटल हिल में डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने जबरदस्त हंगामा किया जिसमें अबतक चार लोगों की मौत हो गई है. खबरों की मानें तो हजारों की संख्या में ट्रंप समर्थक हथियारों के साथ कैपिटल हिल में प्रवेश कर गये और तोड़फोड़ की...बताया जा रहा है ट्रंप समर्थकों ने सीनेटरों को बाहर किया और कब्जा कर लिया.

इधर इस हिंसा के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप ने एक ट्वीट किया. इस ट्वीट में उन्होंने हिंसा करने वालों को देशभक्त कह दिया. इस ट्वीट के बाद वह लोगों के निशाने पर आ गईं. उनके ट्वीट की इतनी आलोचना हुई कि उन्हें उसे डिलीट करना पड़ा. इस पूरे घटनाक्रम पर उनकी सफ़ाई भी आई है.

उधर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों द्वारा कैपिटोल परिसर में हिंसा के बाद अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप की चीफ ऑफ स्टाफ स्टीफनी ग्रीसम, व्हाइट हाउस की उप प्रेस सचिव सारा मैथ्यूज ने इस्तीफा देने का काम किया है. आपको बता दें कि ग्रीसम इससे पहले व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव के रूप में भी सेवा दे चुकी हैं. उनके बाद कैली मैकनेनी को अप्रैल में प्रेस सचिव बनाया गया.

पीएम मोदी मोदी ने क्या कहा : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प पर चिंता जाहिर की है. उन्होंने कहा कि सत्ता का हस्तांतरण शांतिपूर्ण तरीके से किया जाना चाहिए...पीएम मोदी ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि लोकतांत्रिक प्रक्रिया को गैरकानूनी प्रदर्शनों से बदलने की अनुमति नहीं दी जा सकती...वाशिंगटन डीसी में हिंसा और दंगे की खबरों से चिंतित हूं... सत्ता का सुव्यवस्थित और शांतिपूर्ण हस्तांतरण किया जाना चाहिए....लोकतांत्रिक प्रक्रिया को गैरकानूनी प्रदर्शनों के जरिए बदलने की अनुमति ठीक नहीं है.

ट्रंप के समर्थकों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प : यहां चर्चा कर दें कि वाशिंगटन डीसी स्थित कैपिटोल परिसर में ट्रंप के समर्थकों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई. इसके बाद परिसर को बंद करने का काम किया गया. कैपिटोल के भीतर यह घोषणा की गई कि ‘‘बाहरी सुरक्षा खतरे'' के कारण कोई व्यक्ति कैपिटोल परिसर से बाहर या उसके भीतर नहीं जा सकता है. बताया जा रहा है कि वाशिंगटन में 15 दिनों के लिए इमरजेंसी लगा दी गई है.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें