25.1 C
Ranchi
Wednesday, February 21, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeबड़ी खबरRussia-Ukraine: 'ठंड आते ही रूस के साथ युद्ध नए चरण में', यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की का बयान

Russia-Ukraine: ‘ठंड आते ही रूस के साथ युद्ध नए चरण में’, यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की का बयान

Russia-Ukraine War. यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा है कि सर्दियों की शुरुआत हो गई है तथा इस मौसम में युद्ध के और जटिल होने के अनुमान के साथ ही यह एक प्रकार से नए चरण में है.

Russia-Ukraine: यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा है कि सर्दियों की शुरुआत हो गई है तथा इस मौसम में रूस-यूक्रेन युद्ध के और जटिल होने के अनुमान के साथ ही यह एक प्रकार से नए चरण में है. जेलेंस्की ने साथ ही कहा कि यूक्रेन हार नहीं मानेगा. उन्होंने पूर्वोत्तर यूक्रेन के खारकीव में ‘एसोसिएटेड प्रेस’ के साथ बृहस्पतिवार को एक विशेष साक्षात्कार में कहा, ‘‘यह युद्ध का नया चरण है. अगर देखा जाए तो सर्दी अपने आप में ही युद्ध का नया चरण है.’’

‘हम हार नहीं मानेंगे’

यह पूछे जाने पर कि क्या अभी तक जवाबी कार्रवाई में अपेक्षित परिणाम मिल पाए हैं, जेलेंस्की ने काफी जटिल उत्तर दिया. उन्होंने कहा, ‘‘देखिए हम हार नहीं मानेंगे. मैं संतुष्ट हूं. हम दुनिया की दूसरी (सर्वश्रेष्ठ) सेना के साथ लड़ रहे हैं.’’ उनका इशारा रूस की सेना की ओर था. जेलेंस्की ने कहा, ‘‘हम लोगों को खो रहे हैं. इस बात से मैं संतुष्ट नहीं हूं. हमें वे सारे हथियार नहीं मिले जो हम चाहते थे, इसलिए मैं संतुष्ट नहीं हो सकता लेकिन मैं ज्यादा शिकायत भी नहीं कर सकता.’’

इजराइल-हमास युद्ध का असर यूक्रेन पर!

उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें इस बात का डर है कि इजराइल-हमास युद्ध का असर यूक्रेन संघर्ष पर भी पड़ सकता है तथा प्रतिस्पर्धी राजनीतिक एजेंडे और सीमित संसाधनों के कारण कीव को पश्चिमी देशों से मिलने वाली सैन्य सहायता प्रभावित हो सकती है. रूस के यूक्रेन पर हमला करने के बाद यूक्रेन को अपना बचाव करने तथा जवाबी कार्रवाई के लिए लाखों डॉलर और हथियारों के रूप में पश्चिमी सैन्य सहायता प्रदान की गई है लेकिन लंबे वक्त से जारी संघर्ष का अभी कोई निष्कर्ष नहीं निकला है.

Also Read: जारी है यूक्रेन पर रूस का हमला, बंदरगाह को किया तबाह, कल तुर्किये के राष्ट्रपति से मिलेंगे पुतिन
यूक्रेन के पास गोला-बारूद का भंडार कम होता जा रहा

यूक्रेन के अधिकारियों को इस बात की चिंता है कि आगे भी ऐसी ही मदद मिल पाएगी या नहीं. यूक्रेन के पास गोला-बारूद का भंडार कम होता जा रहा है, जिससे यूक्रेनी युद्ध की धार कुंद होने का खतरा है. ठंड शुरू होने से सैन्य नेतृत्व को नयी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा, हालांकि इन चुनौतियों का सामना वे पूर्व में भी कर चुके हैं. हाड़ जमा देने वाली ठंड और बंजर मैदान सैनिकों के काम को और भी जटिल बना देते हैं.

मॉस्को ने 25 नवंबर को सबसे व्यापक ड्रोन हमला शुरू किया

इसके अलावा रूस की ओर से शहरों को निशाना बनाकर हवाई हमले तेज किए जाने का खतरा है. मॉस्को ने 25 नवंबर को अपना सबसे व्यापक ड्रोन हमला शुरू किया जिसमें ईरान निर्मित 75 ड्रोन ने कीव को निशाना बनाया था. जेलेंस्की ने कहा, ‘‘इसीलिए ठंड में युद्ध मुश्किल है.’’ उन्होंने गर्मी के मौसम में जवाबी कार्रवाई को लेकर भी आपनी राय दी. जेलेंस्की ने कहा, ‘‘हम जल्द परिणाम चाहते हैं. उस लिहाज से दुर्भाग्य से हमें अपेक्षित परिणाम नहीं मिले हैं.’’

Also Read: ड्रोन अटैक कर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को जान से मारने की कोशिश, यूक्रेन ने किया हमले से इनकार
सहयोगियों से सभी आवश्यक हथियार नहीं मिले

उन्होंने कहा कि यूक्रेन को सहयोगियों से सभी आवश्यक हथियार नहीं मिले और उसके सीमित सैन्य बल के कारण लड़ाई तेज नहीं हो पाई. यूक्रेन के राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘अपेक्षित परिणाम तेजी से पाने के लिए पर्याप्त ताकत नहीं है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम हार मान लें या आत्मसमर्पण कर दें. हम उसके लिए लड़ रहे हैं जो हमारा है.’’ वहीं, अमेरिका में व्हाइट हाउस की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने सैन्य सहायता के बारे में जेलेंस्की की टिप्पणियों पर कहा कि अमेरिका ने ‘‘अभूतपूर्व’’ सहयोग प्रदान किया है.

अनुमान पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा

जॉन किर्बी ने कहा, ‘‘मैं यकीनन राष्ट्रपति जेलेंस्की के इस अनुमान पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा कि उन्हें वो सफलता नहीं मिली जो वो हासिल करना चाहते थे. लेकिन मैं आपको यह यकीन दिलाता हूं कि अमेरिका ने वो सबकुछ किया जो हम कर सकते थे.’’ उन्होंने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो. बाइडन का प्रशासन और अधिक सहायता देना चाहता है लेकिन कांग्रेस में रिपब्लिकन प्रतिनिधियों के विरोध का उसे सामना करना पड़ रहा है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें