1. home Hindi News
  2. world
  3. study report on new coronaviruses researchers reveal covid 19 global hot spots threat to the world smb

चमगादड़ों से इंसानों में नए कोरोना वायरस के फैलने का खतरा ज्यादा, शोधकर्ताओं ने बताए ऐसे ग्लोबल हॉटस्पॉट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
चमगादड़ों से नए कोरोना वायरस के इंसानों में फैलने का खतरा ज्यादा
चमगादड़ों से नए कोरोना वायरस के इंसानों में फैलने का खतरा ज्यादा
Twitter

New Coronaviruses Global Hot Spots वैश्विक महामारी कोरोना के प्रभाव और उससे बचाव को लेकर कई तरह के शोध किए जा रहे है. दरअसल, दुनियाभर के कई देशों में कोरोना वायरस के बदलते स्वरूप को लेकर खतरा बना हुआ है. वहीं, आने वाले दिनों में भारत समेत अन्य देशों में तीसरे और चौथे लहर से प्रभावित होने की बात सामने आ रही है. इन सबके बीच, अमेरिकी शोधकर्ताओं ने ऐसे हॉटस्पॉट बताए हैं, जहां न्यू कोरोना वायरस के फैलने की संभावना ज्यादा है. न्यू स्टडी में रिमोट सेंसिंग के इस्तेमाल जरिए चमगादड़ों की उपस्थिति की पहचान की गयी है.

बर्कले स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के शोधकर्ताओं के द्वारा यह स्टडी किया गया है. इसमें पॉलिटेक्निक यूनिवर्सिटी ऑफ मिलान और मैसी यूनिवर्सिटी ऑफ न्यूजीलैंड के शोधकर्ता भी शामिल थे. स्टडी पश्चिमी यूरोप से दक्षिण-पूर्व एशिया तक की रेंज में की गयी है. स्टडी में शोधकर्ताओं ने खुलासा करते हुए बताया है कि किन जगहों पर चमगादड़ों से नए कोरोना वायरस के इंसानों में फैलने का खतरा ज्यादा हो सकता है. खास बात यह है कि रिसर्च में जिन हॉटस्पॉट को चिन्हित किया गया है, उनमें से ज्यादातर इलाके चीन में हो सकते हैं.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, स्टडी में कोरोना वायरस के सक्रिय होने से जुड़ी जानकारी का उजागर करने पर ज्यादा फोकस किया गया है. स्टडी में जापान, उत्तरी फिलिपीन्स के कुछ हिस्सों को शामिल किया गया है. शोधकर्ता मारिया क्रिस्टिना (Maria Cristina Rulli) ने इस स्टडी का उद्देश्य के बारे में बताते हुए कहा कि कि हम इस बारे में जानकारी एकत्रित कर रहे थे कि भविष्य में कोरोना वायरस कहां से पनप सकते हैं. उन्होंने बताया कि चमगादड़ के शरीर में वायरस की संख्या पंद्रह हजार तक हो सकती है.

इससे पहले चमगादड़ों पर लंबे समय से रिसर्च कर रहे वैज्ञानिक पीटर डैस्जैक ने बीते वर्ष सीएनएन से बातचीत के दौरान कहा था कि चमगादड़ों के शरीर से हम अब तक सिर्फ पांच सौ कोरोना वायरस की तलाश ही कर पाए हैं. उन्होंने बताया कि चमगादड़ के शरीर में वायरस की संख्या पंद्रह हजार तक हो सकती है. जबकि, अभी सिर्फ कुछ ही वायरस के बारे में दुनिया जा पाई है. पीटर डैस्जैक अमेरिकी संस्था इकोहेल्थकेयर के प्रेसिडेंट हैं और बीते पंद्रह सालों से वे चमगादड़ों से सैंपल एकत्रित कर रहे हैं, ताकि दुनिया को भविष्य में महामारियों से बचाया जा सके.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें